कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लेने आये पीएम ने नर्स से क्या पूछा खुद निशा शर्मा ने बताया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दिल्ली स्थित एम्स में देशी कोरोना वैक्सीन कोवैक्स की दूसरी डोज ले ली है। इस बार उन्हें पंजाब की नर्स निशा शर्मा ने कोवैक्स का टीका लगाया। हालांकि, प्रधानमंत्री को कोविड वैक्सीन की पहली डोज देने वाली पुडुचेरी की नर्स पी. निवेदा आज भी मौके पर मौजूद रहीं। मोदी ने 1 मार्च को कोवैक्स की पहली डोज लगवाई थी जिस दिन देश में कोविड-19 महामारी के खिलाफ टीकाकरण अभियान का तीसरा चरण शुरू हुआ था।

पंजाब के संगरूर की नर्स निशा शर्मा बोली पीएम से मिलना यादगार क्षण

बहरहाल, कोवैक्स की दूसरी डोज देने वाली एम्स की नर्स निशा शर्मा ने पीएम मोदी से मिलने पर खुशी का इजहार किया। उन्होंने कहा कि वो क्षण उनके लिए यादगार बन गया जब उन्होंने पीएम मोदी को टीका लगाया और प्रधानमंत्री ने उनसे कुछ बातचीत भी की। निशा ने बताया, “सुबह ही पता चला कि पीएम मोदी अपनी कोवैक्सीन की सेकंड डोज के लिए एम्स आ रहे हैं और हमें उन्हें वैक्सीनेट करना है। हमने उनको वैक्सीन की सेकंड डोज दी, बहुत अच्छा लगा, उनसे मिलके। उनसे थोड़ी से बातचीत भी हुई,  उन्होंने पूछा कि हम कहां से हैं, फिर एक फोटोग्राफ ली। यह हमारे लिए बड़ा यादगार क्षण है कि उनसे मिलने का मौका मिला, उन्हें वैक्सीनेट करने का मौका मिला इस पैंडेमिक सिचुएशन में।”

पूरी सादगी के साथ पहुंचे पीएम

पहली बार की तरह ही इस बार भी पीएम मोदी पूरी सादगी के साथ एम्स अस्पताल पहुंचे पीएम मोदी ने नियमो का पालन करते हुए वैक्सीन लगवाकर देशवासियों से वैक्सीन लगवाने के लिए एक बार फिर अनुरोध किया पीएम मोदी ने लोगों से अपील भी की वो वैक्सीन लगवाने से ज्यादा से ज्यादा लोगों को जागरोक करे जिससे इस बीमारी से निजाद मिल सके। इसके साथ उन्होने कोरोना को लेकर लापरवाही करने से बचने का भी अनुरोध किया गौरतलब है कि देश में कुछ जगहो पर लापरवाही के चलते देश में फिर से कोरोना के मामले काफी तेजी से बढ़ रहे है। ऐसे में लोगों से पीएम लगातार लापरवाही से बचने को कहते आये है।

कोरोना से बचना है तो दवाई और कढ़ाई दोनो को अपना ही होगा क्योकि बस यही एक साधन है तो कोरोना को देश से बाहर निकाल सकता है और इसमें कोई रॉकेट साइंस भी नही है क्योकि ऐसा हम पिछले साल कर चुके है जब सावधानी रखकर हमने कोरोना को देस पर हावी नही होने दिया था।