नया भारत दुनिया की जरूरत को पूरा करने के लिये हो रहा तैयार

देश आज तेजी के साथ बदल रहा है और ऐसा देखा भी जा रहा है। क्योकि मोदी सरकार के आने से देश में एक सकरात्मक माहौल बना है। खुद इस बात को आज देश मान रहा है, कुछ यही बात पीएम मोदी ने नीति आयोग की एक बैठक में भी बोला।  इसके साथ ही पीएम मोदी ने इस बात पर जोर दिया कि देश को आगे बढ़ाने के लिए केंद्र और राज्य सरकारों को मिलकर काम करने की जरूरत है।

आत्मनिर्भर भारत से दुनिया की जरूरत होगी पूरी

आज दुनिया में भारत की छवि जिस तरह से एक शक्तिशाली देश के तौर में बन रही है। उससे ये साफ महसूस किया जा सकता है आत्मनिर्भर भारत पूरी दुनिया की जरूरत को पूरा करेगा। पीएम की माने तो ‘आत्मनिर्भर भारत अभियान, एक ऐसे भारत का निर्माण का मार्ग है जो न केवल अपनी आवश्यकताओं के लिए बल्कि विश्व के लिए भी उत्पादन करे और ये उत्पादन विश्व श्रेष्ठता की कसौटी पर भी खरा उतरे।इसके साथ साथ पीएम मोदी ने बताया कि  ‘हमने कोविड-19 के दौरान देखा है कि कैसे केंद्र और राज्य ने राष्ट्र को सफल बनाने में एक साथ काम किया है, जिससे विश्व स्तर पर देश की सकारात्मक छवि बन गई है। हमने कोरोना कालखंड में देखा है कि कैसे जब राज्य और केंद्र सरकार ने मिलकर काम किया, देश सफल हुआ। दुनिया में भी भारत की एक अच्छी छवि का निर्माण हुआ।’

देश तेजी से बढ़ने का मूड बना चुका है

देश में इस वक्त तेजी से हर सेक्टर में काम हो रहा है उसको ध्यान में रखकर बजट भी तैयार किया गया है। इस बाबत पीएम मोदी खुद बोल रहे हैं ‘इस साल के बजट पर जिस तरह की सकारात्मक प्रतिक्रिया आई, उसने जता दिया कि ‘मूड ऑफ द नेशन’ क्या है। देश मन बना चुका है, देश तेजी से आगे बढ़ना चाहता है, देश अब समय नहीं गंवाना चाहता। देश के मन को बनाने में देश का युवा मन बहुत बड़ी भूमिका अदा कर रहा है। वही पीएम मोदी ने राज्यों से अपील की आज जब देश अपनी आजादी के 75 वर्ष पूरे करने जा रहा है, तब गवर्निंग काउंसिल की बैठक और महत्वपूर्ण हो गई है। मैं राज्यों से आग्रह करूंगा कि आजादी के 75 वर्ष के लिए अपने-अपने राज्यों में समाज के सभी लोगों को जोड़कर समितियों का निर्माण करें। इसके साथ पीएम मोदी ने दोबारा से दोहराया कि देश के कारोबारियों को अपशब्द कहने की आदत को भी हमें बदलना होगा। उनकी ऊर्जा का इस देश को फायदा हो रहा है इस बात को हमें स्वीकार करना चाहिये जिससे देश में एक अच्छा माहौल पैदा हो सके और देश तेजी से काम कर सके।

यहां ये बता दें कि नीति आयोग जहां देश के विकास के लिये केंद्र और राज्य मिलकर एक टीम की तरह काम करते है तभी आज देश विकास की रेस में हर मोर्चा जीत रहा है और ऐसा सिर्फ मोदी जी के चलते हो पाया है क्योकि केंद्र और राज्य की दूरी काम को लेकर पूरी तरह से मिट गई है।