कोरोना महामारी को लेकर नई गाइडलाइन जारी, पहले की तरह ही रहेगी सख्ती

साल 2020 का आखरी महीना शुरू हो गया है लेकिन अभी भी देस के कुछ इलाको में कोरोना को लेकर बहुत अच्छी अब नही आ रही है। इस बीच केंद्र सरकार ने कोरोना को लेकर नई गाइडलाइन  जारी कर दी है। जिसके तहत अभी भी कुछ राज्यो में स्कूल नही खुलेगे।  स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में कोविड-19 के 38,772 नए मामले आए और 45,333 और मरीज स्वस्थ हो गए हैं। देश में अब तक 88,47,600 लोग संक्रमण से उबर चुके हैं। मंत्रालय ने कहा, ”स्वस्थ होने वाले मरीजों और उपचाराधीन मरीजों की संख्या के बीच अंतर बढ़ रहा है।” देश में 4,46,952 मरीजों का उपचार चल रहा है जो कि संक्रमण के कुल मामलों का महज 4.74 प्रतिशत है।

रिटेल और होलसेल मार्केट के लिए

पिछले कई महीनो में देखा गया है कि देश के कई शहरों के बाजारों में कोरोना महामारी की गाइडलाइन को गंभीरता से नही लिया जा रहा है। जिसके चलते महामारी फिर से कई शहरो में ब़ती हुई दिखाई दी थी। जिसे ध्यान में रखते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने SOP यानी Standard operating procedure  जारी किया है। आपको बता दें कि ये गाइडलाइन रिटेल और होलसेल मार्केट दोनों पर लागू होती है। SOP के तहत स्कंटेंनमेंट जोन से बाहर की मार्केट खोलने की इजाजत दी गई है। जिन बाजारों में कोरोना के केस बड़ी संख्या में दर्ज हों उन्हें बंद करने के आदेश दिए गए हैं। साथ ही जहां पर मार्केट खोलने की अनुमति है वहां दुकानदारों को दुकानों के अंदर 6 फीट की दूरी सुनिश्चित करने को कहा गया है। बाजारों में फिजिकल डिस्टेसिंग मेंटेन कराने के लिए कर्मचारियों की तैनाती होगी।

दी गई घर पर रहने की सलाह

स्वास्थ्य मंत्रालय की गाइडनाइन में 65 साल से ज्यादा उम्र के लोग को घर पर रहने ही सलाह दी गई है। इसके अलावा उन्हें भी घर पर रहने को कहा गया है जो गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं। नई गाइडलाइन में गर्भवती महिलाएं और 10 साल से कम उम्र के बच्चों को भी घर से बाहर न निकलने को कहा गया है। इन गाइडलाइन को लेकर इंफोर्समेंट एजेंसियों को समुचित कदम सुनिश्चित करने को कहा गया है। इसके साथ साथ जो लोग सरकार की गाइडलाइन को नही मानेगे उनके खिलाफ जुर्माना का प्रवधान अभी भी जारी रखा गया है। नई गाइडलाइन को सभी राज्यो में लागू भी कर दिया गया है। इसके साथ साथ शादी में डीजे और बैंड बाजा पर कई जगह रोक लगाने की बात कही गई है। खासकर उन राज्यो में जहां अभी भी मामले पहले की तरह ही आ रहे है।

वैसे इन सब के बीच सरकार ने दावा भी किया कि नये साल में लोगों तक जल्द वैक्सीन भी पहुंच जायेगी जिसके बाद इस महामारी से उबरना शुरू हो जायेगा लेकिन इन सबके बीच हमें भी तबतक सावधान रहना होगा जबतक बाजार में वैक्सीन सभी के लिए न आ जाये।