स्टार्ट-अप्स कल्चर बनाने के लिए अब 16 जनवरी को मनेगा ‘नेशनल स्टार्ट-अप डे’: पीएम मोदी

पिछले 7 सालों में देश में जिस तरह से स्टार्टअप्स इकोसिस्‍टम तेजी से आगे बढ़ा है उसकी स्पीड बताती है कि देश इस मामले में और बेहतर करने जा रहा है। स्टार्ट-अप्स का कल्चर देश के दूर-दराज तक पहुंचे इसके लिए 16 जनवरी को अब ‘नेशनल स्टार्ट-अप डे’ के रूप में मनाने का फैसला लिया गया है। इस बाबत खुद पीएम मोदी ने बोला हमारा प्रयास देश में बचपन से ही छात्रों में इनोवेशन के प्रति आकर्षण पैदा करने और इनोवेशन को संस्थागत करने का है। 9,000 से अधिक अटल टिंकरिंग लैब्स आज बच्चों को स्कूलों में इनोवेटे करने और नए विचारों पर काम करने का मौका दे रही हैं।

ग्लोबल इनोवेशन इंडेक्स रैंकिंग में सुधार

ग्लोबल इनोवेशन इंडेक्स में सुधार का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि इनोवेशन को लेकर भारत में जो अभियान चल रहा है, उसी का प्रभाव है कि ग्लोबल इनोवेशन इंडेक्स में भी भारत की रैंकिंग में बहुत सुधार आया है। वर्ष 2015 में इस रैंकिंग में भारत 81 नंबर पर था। अब इनोवेशन इंडेक्स में भारत 46 नंबर पर है। पीएम मोदी ने कहा कि जिस स्पीड और स्केल में आज भारत का युवा स्टार्ट-अप बना रहा है, वो वैश्विक महामारी के इस दौर में भारतीय की प्रबल इच्छा शक्ति और संकल्प शक्ति का प्रमाण है। पहले बेहतरीन से बेहतरीन समय में इक्का-दुक्का कंपनियां ही बड़ी बन पाती थी, लेकिन बीते साल तो 42 यूनिकॉर्न देश में बने हैं। उन्होंने कहा कि हजारों करोड़ रुपये की ये कंपनियां आत्मनिर्भर होते, आत्मविश्वासी भारत की पहचान हैं। आज भारत तेज़ी से यूनिकॉर्न की सेंचुरी लगाने की तरफ बढ़ रहा है। मैं मानता हूं, भारत के स्टार्ट-अप्स का स्वर्णिम काल तो अब शुरू हो रहा है।

देश में यूनिकार्न की संख्या दोगुनी से ज्‍यादा

भारत में वर्तमान में कुल यूनिकार्न की संख्या दोगुनी से भी ज्‍यादा हो गई है। ओरियोस वेंचर पार्टनर्स की ओर से जारी रिपोर्ट में कहा गया कि वर्ष 2021 में भारत में 46 स्टार्टअप यूनिकॉर्न एक अरब डॉलर से अधिक मूल्यांकन वाले स्टार्टअप का दर्जा पाने में सफल रहे है। साथ ही भारत में मौजूद कुल यूनिकार्न की संख्या दोगुनी से भी ज्यादा होकर 90 हो गई जो ये बताती है कि भारत इस सही रास्ते पर तेजी से आगे निकल रहा है। इतना नही इस दौरान पीएम मोदी ने युवाओं से बोला की आप नया करते रहिये और सरकार नया करने में हर संभव आपकी मदद के लिये तैयार है। देश के भविष्य के लिये युवाओं में उन्होने एक बार फिर से जोश भरा और बोला युवाओं के प्रयास से ही आझ भारत तेजी से आगे बढ़ रहा है।

इस बात में तो कोई शक नही है कि मोदी सरकार ने नये लोगों को नये नये काम करने के लिए सबसे ज्यादा मदद पहुंचाई है तो कुछ नया करने की प्रेरणा भी दी है।

 

Leave a Reply