मोटर व्हीकल एक्ट – मोदी सरकार का प्लान, सख्त कानून से रुकेंगे सड़क हादसे

दुनिया में सबसे ज्यादा सड़क हादसे भारत में होते हैं और ज्यदातर सड़क हादसों के ज़िम्मेदार हम खुद होते है। कल लोकसभा में सड़क और परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने माना कि भारत में आतंकी हमलों से कहीं ज्यादा लोग सड़क हादसों में मारे जाते हैं। मोटर व्हीकल एक्ट में संशोधन सरकार की इसी संख्या को कम करने की कोशिश है।

मोटर व्हीकल एक्ट के नए नियम ! Motor Vehicle Act

सरकार सख्ती के मूड में है और ट्रैफिक नियम तोड़ने वालों पर कोई रहम नहीं करने वाली। सरकार ने मोटर व्हीकल एक्ट में कई संशोधन किए हैं और उसे लोकसभा में पेश किया है। नए एक्ट में प्रस्ताव किया गया है –

Motor Vehicle Act

– फोन पर बात करते हुए गाड़ी चलाने पर जुर्माने और ज्यादा लगेगा
– जुर्माने की रकम को 1,000 से बढ़ाकर 5,000 रुपये करने का प्रस्ताव है
– रैश ड्राइविंग, बिना लाइसेंस गाड़ी चलाना पर भी ज्यादा जुर्माने का प्रस्ताव है
– शराब पीकर गाड़ी चलाने पर जुर्माना 2,000 से बढ़ाकर 10,000 रुपये किया जाए
– एंबुलेंस, फायर ब्रिगेड जैसी गाड़ियों को रास्ता नहीं देने पर भी जुर्माना लगे
– ऐसा करने वाले पर 10,000 रुपये के जुर्माने का प्रावधान है
– नाबालिग के गाड़ी चलाते पकड़े जाने पर गाड़ी का मालिक दोषी होगा
– साथ ही 25,000 के ज़ुर्माने के साथ-साथ 3 साल जेल का प्रावधान है
– लाइसेंस लेने या गाड़ी के रजिस्ट्रेशन के लिए आधार नंबर जरूरी हो सकता है

साथ ही साथ डिजिटल इंडिया के तहत मोटर व्हीकल एक्ट को भी डिजिटाइज्ड करने की योजना है। केंद्र सरकार जल्द ही मोटर व्हीकल नियमों में बदलाव करने जा रही है। डिजिटल इंडिया के तहत मोटर व्हीकल एक्ट को भी डिजिटाइज्ड करने की योजना है।

यही वजह है कि अब आपको ड्राइविंग लाइसेंस, गाड़ी का रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट और इंश्योरेंस साथ लेकर नहीं चलना होगा। यह सब आपके मोबाइल पर होगा। दरअसल, अभी तक ट्रैफिक पुलिस गाड़ियों के ओरिजनल दस्तावेज देखते थे, लेकिन नए नियमों के बाद इसका डिजिटल वर्जन भी स्वीकार किया जाएगा।

Construction Materialसड़क परिवहन मंत्रालय की ओर से जारी किए गए ड्राफ्ट के मुताबिक, खुले ट्रक में कंस्ट्रक्शन मैटेरियल जैसे बालू, मिट्टी और सीमेंट को ले जाने की अनुमति नहीं होगी। खुले ट्रक में जब कंस्ट्रक्शन मैटेरियल ले जाया जाता है तो पर्यावरण को नुकसान होता है। बंद ट्रंक में सामान जाने से इस पर अंकुश लगेगा।