अमरनाथ यात्रा के 16वें दिन ही टूटा कई सालों का रिकॉर्ड, 2 लाख से ज्यादा तीर्थयात्री आये

Amarnath yatra

आज से श्रावण के पावन और धार्मिक मास की शुरुआत हो गयी है, और साथ ही भगवान भोले के भक्तों में आस्था का सैलाब उमड़ आया है| आपको याद होगा कि बीते 1 जुलाई, 2019 को अमरनाथ यात्रा की शुरुआत के साथ ही कश्मीर की पहाड़ियों में स्थित पावन अमरनाथ गुफा में बाबा बर्फानी के दर्शन के लिए लाखों भक्तों की भीड़ उमड़ पड़ी थी|

सेना की कड़ी सुरक्षा और निगरानी में अब तक लाखों भक्त बाबा बर्फानी के दर्शन कर चुके है, इसी क्रम में बीते मंगलवार को करीब 11538 यात्रियों ने बाबा बर्फानी के दर्शन किए|

सूत्रों के मुताबिक इस साल बाबा के दर्शन करने वाले भक्तों के आंकड़ों में सबसे ज्यादा इजाफा दर्ज किया गया है| रिकार्ड्स के अनुसार इस साल यात्रा के 16वें दिन तक 205083 यात्रियों ने दर्शन कर लिए है जबकि बीते वर्ष में यात्रा के 20वे दिन तक 201582 भक्तों ने बाबा के दर्शन किये थे|

बता दें कि हर साल आयोजित होने वाला यह पवित्र अमरनाथ यात्रा हमेशा से ही आतंकियों के निशाने पर रहा है| अपना खौफ लोगों में बनाये रखने के लिए आतंकी हमेशा इस कोशिश में रहे कि किसी भी प्रकार से यात्रा की शांति को भंग किया जाये|

इस साल भी सुरक्षा के नज़रिए से घाटी के तनावपूर्ण हालात को ध्यान में रखते हुए जम्मू से यात्रा को दो बार रोका गया है, मगर इन सब के बावजूद यात्रा अगर इसी प्रकार शांतिपूर्ण तरीके से होती रही तो पिछले कई सालों का रिकार्ड टूट सकता है|

इस साल यात्रा की शुरुआत से पहले खुद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सभी सुरक्षा इंतजामों का जायजा अपने कश्मीर दौरे के समय लिया था| यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए जिन रास्तों से भक्तों का जत्था बाबा के दर्शन के लिए निकलता है उन रास्तों पर अन्य गाड़ियों की आवा-जाही पर पाबन्दी लगायी गयी है| यात्रा में शामिल सभी भक्तों के साथ-साथ साधु संतों का भी ऑन स्पाट पंजीकरण किया जा रहा है|

इस यात्रा में भोले के भक्तों का मौसम पूरा साथ निभा रहा है| घाटी के साथ जम्मू में हल्के बादलों से मौसम सुहावना बना हुआ है।

एक यात्री ने बताया कि वो हर साल अमरनाथ यात्रा के लिए आते हैं पर इस साल यात्रा की सुरक्षा के इंतज़ाम इतने मज़बूत हैं कि हम यहाँ बिलकुल घर के माहौल की तरह खुद को महफूज़ महसूस कर रहे है|