आजादी के बाद कश्मीर में हुई लूट पर ब्रेक लगाती मोदी सरकार

वैसे तो कश्मीर में बर्फबारी के बाद ठंड काफी बढ़ चुकी है लेकिन इसके बावजूद भी वहां कि सियासत में गर्मी तो राजनेताओं के पसीने छूट रहे है क्योकि एक के बाद एक बड़े घोटाले राज्य के सामने आ रहे है और ये सब हुआ है सिर्फ मोदी सरकार के धारा 370 हटाने के चलते

 

धारा 370 हटने के बाद घोटाले से हट रहा नकाब

आजादी के बाद से कैसे कश्मीर की आवाम के पैसे के साथ लूट होती रही है। अब धारा 370 हटने के बाद धीरे धीरे सामने आ रहा है। ताजा मामला रोशनी एक्ट के तहत देखा जा रहा है जिसमें करीब देश का अभी तक का सबसे बड़ा घोटाला का खुलासा हो रहा है। जम्मू-कश्मीर के रोशनी भू  घोटाले में जिस तरह राज्य के कई बड़े नेताओं के सामने आए हैं उससे यही पता चलता है कि धांधली को शीर्ष स्तर पर संरक्षण मिला हुआ था। इस संरक्षण के कारण ही इस पर हैरानी नहीं होने चाहिये कि घोटाले में प्रमुख नेताओं के साथ-साथ नौकरशाह, व्यापारी एवं अन्य प्रभावशाली लोगों के भी नाम सामने आ रहे हैं। अभी तक के आकलन के अनुसार यह घोटाला करीब 25,000 करोड़ रुपये का है। जानकारों की माने तो अभी इस मामले में कई और बड़े नामो का खुलासा भी हो सकता है। फिलहाल तो ये एक शुरूआत है।

न खाऊंगा न खाने दूंगा पर चलती मोदी सरकार

मोदी सरकार जब से सत्ता में आई तब से ही घोटालेबाजों या यूं बोले कि जनता का पैसा खाने वालों की आफत आ चुकी है। सरकार ने जब से DBT के तहत सीधे पैसा जरूरमंदों तक पहुंचाना शुरू किया है तब से देश में बिचौलियों की लगी हुई है तो नये कृषि बिल से किसानों को भी आत्मनिर्भर बनाकर कही न कही इस सेक्टर से जुड़े बिचौलियों को खत्म कर दिया है। ऐसी तमाम योजना है जो देश में लागू करके मोदी सरकार ने भ्रष्टाचारियों पर लगाम लगाई थी लेकिन कश्मीर इससे अछूता था जिसे धारा 370 हटाकर मोदी सरकार ने पूरा कर दिया। तभी आज कश्मीर से भी बड़े बड़े घोटाले सामने आ रहे है जिससे साफ हो रहा है कि कैसे आजादी के बाद कश्मीर में बनी सरकारों ने घाटी के लोगों को चूना लगाया है। लेकिन अब केंद्र में एक ईमानदार सरकार आ चुकी है जो देश के घोटालेबाजों के लिये काल से कम नही है।

फिलहाल अभी तो सिर्फ शुरूआत है आगे आगे देखिये होता है क्या क्योकि जिस तरह से रोशनी एक्ट में नामो का खुलासा हो रहा है उससे साफ हो रहा है कि इस मामले में अभी और भी नाम सामने आ सकते है। लेकिन ये तो तय है कि ये मोदी सरकार है घोटालेबाजों को छोड़ने वाली नही…..