मुश्किल दौर में हौसला बढ़ाते पीएम मोदी

जब देश पर कोई संकट का वक्त आता है, तब देश के नेताओं के साहस की परीक्षा होती है। ऐसा ही कुछ आजकल देखा जा रहा है। जब देश पर कोरोना वायरस महामारी से जंग लड़ रहा है, तो देश के प्रधानमंत्री इस संकट को खत्म करने के लिए पूरे साहस के साथ मुकाबला कर रहे है, और देश का जोश भी बढ़ा रहे है। 

एक कविता थी कि नर हो न निराश करो मन को … कुछ ऐसा ही पीएम मोदी इस वक्त कर रहे है। कोरोना से लड़ने के लिये सरकार द्वारा उठाये गये कदमों पर जहां खुद नजर बनाये हुए है और हर दिन आम लोगों को कोई दिक्कत न हो, साथ ही कोरोना महामारी भी देश से खत्म हो जाये इसके लिये काम कर रहे है, तो देश की जनता के बीच आकर उनका हौसला भी बढ़ा रहे है। वो भी खुद फोन से बात करके। 

वुहान से लौटे कश्मीर छात्र से की बात 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन के वुहान से लौटे 60 कश्मीरी छात्रों में से एक छात्र रहमान से बात की, वुहान से लौटे सभी छात्र वहां एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहे थे। रहमान कश्मीर के कसकूट बनिहाल के रहने वाले हैं। जब पीएम मोदी ने रहमान से अपना अनुभव साझा करने को कहा  तो निजाम ने बताया कि 14 दिन अलग थलग रहने के दौरान उन्हें कोई समस्या नही हुई, उन्हें अच्छा खाना दिया गया, खेलने को गेम्स दिए गए, इसलिए जो लोग क्वारनटाइन के दौरान रहते हैं वो भयभीत न हों। रहमान ने पीएम मोदी का शुक्रिया भी किया। पीएम मोदी ने  कहा कि वह चूंकि मेडिकल की पढ़ाई करते हैं, तो ऐसे में लोगों को लॉक डाउन के महत्व के बारे में बताएं और समझाएं।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये की बात

इससे पहले उन्होंने समाज के अलग-अलग हिस्सों से आने वाले  लोगों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात की थी, सबसे पहले पीएम मोदी जी ने अपने लोकसभा सीट बनारस के निवासियों का हौसला बढ़ाया इसके साथ साथ मेडिकल इक्विपमेंट और मेडिसिन मैन्यूफैक्चिरिंग इंडस्ट्री, पैरामेडिकल, ​प्रिंट मीडिया, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, रेडियो इंडस्ट्री से जुड़े लोगों से बाते करके अपने विचार रखे और इस संकट के दौर से कैसे निकला जाये इसका भी हल पूछा। 

फोन से पुणे की नर्स से की बात 

कोरोना वायरस से जो लोग सीधे जंग लड़ रहे है। उनको इस वक्त भगवान का अवतार माना जाये ये कहना गलत नही होगा। खुद पीएम भी इन लोगो को भगवान का दर्जा दे चुके है। लेकिन खुद पीएम ने पुणे के एक सरकारी अस्पताल की नर्स छाया से सीधे बात की तो नर्स की खुशी का ठिकाना न रहा। छाया ने अपने अनुभव साझा करते हुए पीएम मोदी को देवता बताया और बोला कि आप जैसे पीएम सबको मिलना चाहिए ।

बच्चों को बताया अपनी सेना 

इसी तरह से पीएम मोदी ने बच्चों की शक्ति के बार में भी एक विडियों के जरिये समझाया खुद पीएम ने देश के आने वाले कल यादी बच्चो को अपनी एक छोटी सेना बताया और कहा कि वो अपने माता पिता को घर में रहने की सलाह बहुत अच्छी तरह से दे रहे है।  

RBI के कदम को बताया बड़ी राहत

जब RBI ने देश कोरोना के चलते देश की आर्थिक स्थिति को बेहतर करने के लिये ऐलान किया और रेपो रेट को कम किया तो EMI जमा करने वालो को तीन महीने की राहत दी तो पीएम ने इस कदम की भी तारीफ की और इसे एक बेहतर कदम बताकर देश को आपार शक्ति मिलने वाला बताया।

कोरोना एप कवच 

कोरोना से लोग निराश न हो और परेशान भी नही इसलिये मोदी सरकार ने युध्द स्तर पर तैयारी कर रखी थी इसकी एक बानगी है, कोरोना एप कवच, यह कोरोना के रिस्क को ट्रैक करता है. इसे केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय और केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने मिलकर इस ऐप को विकसित किया है. इस ऐप में व्यक्ति की लोकेशन को इस बात का मूल्यांकन करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है कि वह ज्यादा रिस्क वाले भौगोलिक जोन में है या नहीं. यह ऐप वर्तमान में बीटा वर्जन में डाउनलोड करने के लिए उपलब्ध है। 

मोदी कीट की हर तरफ हो रही बात 

खुद पीएम मोदी की पार्टी ने भी पीएम मोदी की अपील के बात उसके वर्कर देश के तमाम राज्यों में गरीब परिवार को खाना खिलाने का काम कर रहे है मोदी किट नाम के थैले में गरीबों को अनाज दिया जा रहा है। जिससे कोई भी गरीब भूखा न रहे।

दुनिया में फॉलो किये जा रहे मोदी 

कुलमिलाकर इस मुश्किल वक्त में देश को बचाना भी है और देश को निराशा के तलाब में डूबने से बचाना भी है। और ये दोनो काम पीएम मोदी जिस बेहतर तरीके से कर रहे है। तभी तो पीएम मोदी के लॉकडाउन वाले भाषण को IPL के फाइनल मैच से भी ज्यादा लोगो ने देखा। ऑकड़े बताते है कि करीब 8.30करोड़ लोगो ने 191 चैनलो पर पीएम को देखा और सुना। खुद ब्रिटेन और अमेरिका भी पीएम मोदी के बताये मार्ग पर चल पड़ा है जिसका उदाहरण तब देखा गया जब इन देशों ने भी भारत के बाद कोरोना से लड़ रहे लोगों का धन्यवाद करने के लिये तालियां बजाई।

 मतलब साफ है कि आज दुनिया में कोरोना से किस तरह से जंग जीती जाये इस बारे में मोदी जी को सभी फॉलो कर रहे है जो हम सब के लिये गर्व की बात है।