मोदी ने लगाई अपने सांसदों को फटकार – कहा देश को आज उनकी सबसे ज्यादा जरूरत

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का देशप्रेम व अपने काम के प्रति निष्ठा किसी से छुपी नहीं है| देश मे आई कोरोना की समस्या से निजात पाने के लिये भी उन्होंने दिन-रात एक कर दिया है | पहले उन्होंने विश्व के सभी देशों को एक मंच पर लाकर इसके हल के बारे मे विचार करने का सफल व कारगर तरीका निकाला और अब देश के सभी सांसदों को दिन-रात मेहनत करने के लिये उत्प्रेरित कर रहे हैं| यह उनकी मेहनत का ही नतीजा है कि अभी तक कोरोना का फैलाव भारत मे अन्य देशों के मुकाबले काफी कम हुआ है |

संसद के बजट सत्र की अवधि कम नहीं की जाएगी:PM

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अगर चिकित्सा पेशेवर, रेलवे और एयरलाइन के कर्मचारी भी स्वास्थ्य कारणों से काम नहीं करने के बारे में कहने लगें तो क्या होगा। उन्होंने कहा कि सांसदों को ऐसे वक्त में अपना काम करते रहना चाहिए जब भारत की 130 करोड़ जनता एहतियात बरतते हुए अपना काम कर रही है। हालांकि उन्होंने किसी का नाम नहीं लिया लेकिन भाजपा के सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री विजय गोयल ने लोकसभा अध्यक्ष और राज्यसभा के सभापति को पत्र लिखकर कोरोना वायरस के मद्देनजर दोनों सदनों के सत्रावसान की अपील की थी क्योंकि सत्र के दौरान संसद में काफी संख्या में लोग जमा होते हैं।

तीन अप्रैल तक चलने वाला है बजट सत्र

सूत्रों ने बताया कि गोयल का पत्र मीडिया में भी आया और प्रधानमंत्री को यह अच्छा नहीं लगा। बजट सत्र तीन अप्रैल तक चलने वाला है। बड़ी संख्या में लोगों के जुटने के खिलाफ स्वास्थ्य परामर्श को देखते हुए कयास लगाए जा रहे थे कि सत्र को छोटा किया जा सकता है। सूत्रों के मुताबिक मोदी ने कहा कि जब देश के 130 करोड़ लोग स्वास्थ्य की समस्याओं से जूझ रहे हैं तो सांसदों को अपना काम करना चाहिए और संसद का कामकाज जारी रहना चाहिए।

कोरोना को लेकर पीएम ने पार्टी सांसदों से कही ये खास बात

भाजपा के वरिष्ठ नेता राजीव प्रताप रूडी ने बताया कि बैठक में प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस से निपटने के संदर्भ में किये गए कार्यो को सामने लाने से डाक्टरों, नर्सो, नगरपालिका कर्मियों, हवाई अड्डा कर्मियों, सीआईएसएफ एवं अग्रिम मोर्चे पर जुटे लोगों का मनोबल बढ़़ता है। रूडी के अनुसार, मोदी ने कहा कि ऐसे में हमें कोविड-19 से मुकाबला करने के विभिन्न आयामों को रेखांकित करने वाले विभिन्न लोगों का भी अभिनंदन करना चाहिए।

जागरूकता फैलाने का काम करें सांसद: पीएम मोदी

रूडी के कहा कि बैठक में प्रधानमंत्री ने पार्टी सांसदों से कहा कि शनिवार एवं रविवार को जब वे अपने क्षेत्र में जाएं तो कोरोना वायरस के बारे में जागरूकता फैलाने का काम करें। मोदी ने सांसदों से 15 अप्रैल तक किसी बड़े प्रदर्शन से भी परहेज करने को कहा। उन्होंने सांसदों से अपने क्षेत्र में मेडिकल कर्मियों से मुलाकात करने और उनके कार्य की सराहना को भी कहा। उन्होंने प्रधानमंत्री के हवाले से बताया कि मीडिया ने काफी सकारात्मक रूप से इस अभियान को आगे बढ़ाने का काम किया है।