रेलवे स्टेशनों के आधुनिकीकरण की प्रक्रिया लगातार जारी : रेल मंत्री

Valsad Railway Station in Gujarat

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने राज्यसभा में बताया की आदर्श स्टेशन योजना के तहत देश भर के 1253 स्टेशनों में से अब तक 1103 स्टेशन विकसित किए जा चुके हैं।

गोयल ने सदन में लिखित जवाब में कहा, ‘‘रेलवे स्टेशनों के आधुनिकीकरण की प्रक्रिया लगातार जारी है। इसके लिए समय-समय पर कई योजनाएं स्कीम भी लाई जाती हैं। स्टेशनों के विकास के लिए मॉडर्न स्टेशन स्कीम और आदर्श स्टेशन स्कीम जैसी योजनाएं लॉन्च हो चुकी हैं। बाकी बचे 150 स्टेशनों को 2019-20 में विकसित किया जाएगा।’’

Piyush Goyal

रेल मंत्री पीयूष गोयल के मुताबिक, स्टेशनों के सुधार के लिए स्टेशन रीडेवलपमेंट प्रोग्राम के तहत एक अलग योजना भी बनाई गई है। इसमें गांधीनगर (गुजरात) और हबीबगंज (मध्य प्रदेश) स्टेशन के पुनर्विकास का काम चालू है। चारबाग (लखनऊ, उत्तर प्रदेश) और पुड्डुचेरी स्टेशनों के रीडेवलपमेंट के लिए कॉन्ट्रैक्ट दे दिए गए हैं। गौरतलब है की रेलवे द्वारा 68 ऐसे स्टेशनों की पहचान की गई थी जिनका छोटा-मोटा अपग्रेडेशन किया जाना था। वहीं, 2018-19 में 68 स्टेशनों को अपग्रेड किया गया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने सभी मंत्रालयों को 100 दिन का एजेंडा तय करने का निर्देश दिया है। इसी कड़ी में रेलवे ने भी 100 दिन की योजना तैयार की है। भारतीय रेलवे दिल्ली-हावड़ा और दिल्ली-मुंबई के व्यस्त रूट पर ट्रैवल टाइम 5 घंटे कम करने की योजना पर काम कर रहा है। अगले चार वर्षों में इस रूट पर बेहतर इंफ्रास्ट्रक्चर मुहैया करवाने के लिए 14 हजार करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। यह कार्य रेलवे के सौ दिवसीय योजना के अंतर्गत रखे गए हैं। सभी को 31 अगस्त से पहले शुरू करने के निर्देश दिए गए हैं।

आपको बता दे की मोदी सरकार 2.0 में रेल मंत्री पीयूष गोयल द्वारा ‘गिव इट अप’ योजना भी शुरू किया गया है। इसके तहत लोगों को रेल टिकट पर सब्सिडी छोड़ने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। कई वरिष्ठ नागरिकों ने सब्सिडी छोड़ भी दी है।