लोकसभा चुनाव 2019: कैश जब्त में टूटा पिछला रिकॉर्ड

election-commission-of-india

चुनाव आयोग के तरफ से आचार संहिता लागू होने के बाद कई राज्यों में कैश जब्त होने का मामला सामने आया| चुनाव के दौरान कैश, शराब, ड्रग्स और मतदाताओं को रिझाने में इस्तेमाल होने वाली अन्य वस्तुओं की धर-पकड़ के लिए चुनाव आयोग लगातार छापेमारी कर रहा है और अबतक इस छापेमारी में 1618.78 करोड़ रुपए की जब्ती हो चुकी है|

चुनाव आयोग की तरफ से जारी की गई जानकारी के मुताबिक 4 अप्रैल तक की गई छापेमारी में 399.50 करोड़ रूपए कैश, 708.55 करोड़ रूपए की ड्रग्स, 162.89 करोड़ रुपए की शराब, 318.49 करोड़ रुपए की महंगी धातुएं और 29.34 करोड़ रुपए की अन्य वस्तएं शामिल हैं| 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान 303 करोड़ रूपए की सामग्री और काश जब्त किया गया था| वही इस बार पहले चरण के चुनाव से पहली ही ये आकंडा काफ़ी आगे निकल चूका है|

इस बार चुनाव आयोग पूरी तरह से चौकना है यहाँ तक की बैनर, पोस्टर आदि किसी भी तरह से आचार संहिता का उल्लंघन करने वाले पार्टी अथवा नेता के ऊपर मामला दर्ज कर रही है| अभी तक आचार संहिता के उल्लंघन से कई केस दर्ज हो चुके हैं|

Election-Commission-seized

इन राज्‍यों में सबसे ज्‍यादा कैश जब्‍त किया गया…

तमिलनाडु -137.81 करोड़ रुपये
आंध्र प्रदेश- 95.79 करोड़
महाराष्‍ट्र- 28.75 करोड़ रुपये
उत्‍तर प्रदेश- 25.42 करोड़ रुपये

cash_seized_by_EC

इन राज्‍यों में सबसे ज्‍यादा शराब जब्‍त की गई…

उत्‍तर प्रदेश- 35.96 करोड़ रुपये
कर्नाटक- 31.99 करोड़ रुपये
आंध्र प्रदेश- 21.23 करोड़ रुपये
महाराष्‍ट्र- 14.99 करोड़ रुपये
गुजरात- 8.19 करोड़ रुपये

इन राज्‍यों में सबसे ज्‍यादा ड्रग्‍स जब्‍त की गई…

गुजरात- 500.01 करोड़ रुपये
पंजाब- 117.33 करोड़ रुपये
मणिपुर- 28.18 करोड़ रुपये
उत्‍तर प्रदेश- 22.8 करोड़ रुपये
केरल- 14.2 करोड़ रुपये

इन राज्‍यों में सबसे ज्‍यादा सोना/चांदी आदि कीमती धातु जब्‍त की गई…

तमिलनाडु- 141.14 करोड़ रुपये
उत्‍तर प्रदेश- 60.39 करोड़ रुपये
महाराष्‍ट्र- 39.04 करोड़ रुपये
आंध्र प्रदेश- 30.48 करोड़ रुपये
पंजाब- 18.32 करोड़ रुपये