CAA के खिलाफ केरल सरकार ने दिया विज्ञापन – बरसे गवर्नर आरिफ मोहम्मद खान

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act – CAA) के ऊपर केरल में लेफ्ट की सरकार और राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान आमने-सामने आ गए हैं। केरल के गवर्नर आरिफ मोहम्मद खान ने सरकार की ओर से CAA के विरोध में अखबारों में विज्ञापन छपवाने पर विरोध जताया है। राष्ट्रीय अखबारों में सरकार के द्वारा विज्ञापनों के ऊपर महामहिम आरिफ मोहम्मद खान ने कहा कि अपनी राजनीतिक कैंपेन के लिए जनता के पैसे की बर्बादी करना पूरी तरह से गलत है।

केरल सरकार शुक्रवार को अखबारों में दिया था विज्ञापन

उल्लेखनीय है कि केरल सरकार ने शुक्रवार को अखबारों में विज्ञापन देकर दावा किया था कि राज्य सरकार संवैधानिक मूल्यों की रक्षा के लिए तत्पर है। विज्ञापन में कहा गया था कि सरकार ने नागरिकता संशोधन को सूबे में लागू न करने को लेकर विधानसभा से प्रस्ताव पारित किया है।

केरल सरकार ने तीन राष्ट्रीय अखबारों में विज्ञापन देकर कहा था कि सरकार ने जनता की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए कई साहसी फैसले लिए हैं। सरकार ने नैशनल पॉप्युलेशन रजिस्टर पर रोक की भी बात कही है। केरल के सीएम पिनराई विजयन की सरकार ने एनपीआर को एनआरसी का शुरुआती कदम करार दिया है।

राजनीतिक प्रचार के लिए सरकारी धन का दुरुपयोग

दिल्ली में मौजूद गवर्नर आरिफ मोहम्मद खान ने टीवी चैनलों से बातचीत में कहा कि राजनीतिक प्रचार के लिए सरकारी धन का दुरुपयोग करना पूरी तरह से गलत है। खान ने कहा, “सरकारी धन का इस्तेमाल संसद की ओर से पारित कानून के खिलाफ प्रचार में किया जा रहा है।“ गवर्नर ने कहा कि यदि यह विज्ञापन किसी राजनीतिक दल की ओर से जारी किया गया होता तो अलग बात थी।


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •