करतारपुर कॉरिडोर / आठ नवंबर को पीएम मोदी उद्घाटन करेंगे, हरसिमरत कौर ने दी जानकारी

PM Modi will inaugurate on November 8

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 8 नवंबर को पाकिस्तान के दरबार साहिब गुरुद्वारे के साथ पंजाब के गुरदासपुर में डेरा बाबा नानक मंदिर को जोड़ने वाले बहुप्रतीक्षित करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन करेंगे।

केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने शनिवार को ट्विटर पर घोषणा की, “गुरु नानक देव जी के आशीर्वाद से, आखिरकार श्री करतारपुर साहिब के ‘खूले दर्शन दीदार’ का सिख पंथ को सौभाग्य मिल रहा है। करतारपुर कॉरिडोर का काम लगभग पूरा हो चुका है। पिछले दिनों पाकिस्तान ने उद्घाटन की तारीख तय नहीं होने की बात कही थी।

मीडिया से बात करते हुए, बादल ने कहा, “प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी 8 नवंबर को करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन करेंगे। 11 नवंबर को, गृह मंत्री अमित शाह एसजीपीसी (शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक) का दौरा करेंगे। 12 नवंबर को राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद SGPC मंच का दौरा करेंगे। “

बता दें कि पाकिस्तान की तरफ से कॉरिडोर की शुरुआत में आनाकानी की जा रही थी और गुरुवार को भी कहा गया था कि अभी तारीख निश्चित नहीं की गई है। हालांकि पाकिस्तान ने कहा था कि गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व (12 नवंबर) से पहले यह कॉरिडोर श्रद्धालुओं के लिए खोल दिया जाएगा।

गुरू नानकदेवजी की 550वीं जयंती पर करतारपुर कॉरिडोर खोले जाने की घोषणा सिख श्रद्धालुओं के लिए बड़ी अहम है। इससे सिख श्रद्धालुओं को काफी लाभ होगा। कॉरिडोर खोले जाने से वह बिना किसी रुकावट और बिना किसी वीजा के गुरुद्वारे में जा सकेंगे। गौरतलब है की भारत-पाकिस्तान सीमा पर करतारपुर मार्ग पंजाब में गुरदासपुर से तीन किलोमीटर दूर है। यह गलियारा पाकिस्तान के करतारपुर साहिब को गुरदासपुर जिले के डेरा बाबा नानक मंदिर से जोड़ेगा। करतारपुर साहिब की स्थापना 1522 में गुरु नानक देव ने की थी और 1539 में इसी जगह गुरु नानक देव ने शरीर छोड़ा था।

करतारपुर पाकिस्तान के नारेवाल जिले में स्थित है। अब तक भारतीय सिख इस स्थान का दर्शन दूरबीनों से करते थे। इस जगह की भारतीय सीमा से दूरी महज तीन किलो मीटर है।