कंबाला धावक निशांत ने 9.51 सेकंड में पूरी की 100 मी दौड़, दूसरी बार टूटा उसेन बोल्ट का रिकॉर्ड

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Nishant Shetty

कर्नाटक में भैंसों की परंपरागत दौड़ (कम्बाला) में 9.55 सेकंड में 100 मीटर की दूरी पूरी करके सुर्खियां बटोरने वाले श्रीनिवास गौड़ा से भी कम समय में 9.51 सेकंड में एक धावक ने यह दूरी पूरी की है। उनका नाम निशांत शेट्टी है। आयोजकों के मुताबिक बजागोली जोगीबेट्ट्रू के रहने वाले निशांत शेट्टी ने रविवार को वेणूर कम्बाला के दौरान 28 साल के गौड़ा का रिकॉर्ड तोड़ा। उन्होंने वेनुर में रविवार को हुई कम्बाला दौड़ में यह रिकॉर्ड बनाया, जो जमैका के धावक उसैन बोल्ट के 9.58 सेकेंड के वर्ल्ड रिकॉर्ड से भी 0.07 सेकंड बेहतर है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, शेट्टी ने दौड़ में 143 मीटर की दूरी 13.61 सेकंड में पूरी की। इस दौरान उन्होंने शुरुआती 100 मीटर 9.51 सेकंड में पूरे किए। इस लिहाज से निशांत ने गौड़ा से 0.04 सेकंड कम वक्त में यह दूरी पूरी की।

सिर्फ 9.51 सेकेंड में पूरी की सौ मीटर की दौड़

कम्बाला आयोजकों के मुताबिक, शेट्टी की इस उपलब्धि के साथ 4 धावक 10 सेकंड से कम समय में 100 मीटर की दूरी पूरी करने वाली लिस्ट में शामिल हो गए हैं। इसमें पहले स्थान पर निशांत शेट्टी (9.51 सेकंड), श्रीनिवास गौड़ा (9.55 सेकंड), सुरेश शेट्टी (9.57 सेकंड) और इरुवथूर आनंद (9.57 सेकंड) हैं।

ओलंपिक में भेजने की मांग

कर्नाटक के गौड़ा ने दौड़ में सिर्फ 13.62 सेकंड में 142.50 मीटर की दूरी पूरी की थी। इसके बाद यह दावा किया गया था कि उन्होंने सिर्फ 9.55 सेकंड में शुरुआती 100 मीटर पूरे किए। और इसके बाद उनकी तुलना वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने वाले बोल्ट से की जाने लगी थी।

श्रीनिवास की इस काबिलियत को देखते हुए सोशल मीडिया यूजर्स उन्हें ओलंपिक में भेजने की मांग कर रहे हैं। उनका कहना है कि सरकार श्रीनिवास को ट्रेनिंग दिलाने की व्यवस्था करे। जिसके बाद खुद खेल मंत्री किरिन रिजिजू ने पहल करके स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया के कोच की देखरेख में उनका ट्रायल कराने की बात कही थी ।

लेकिन गौड़ा ने SAI के ट्रायल में हिस्सा लेने से किया इनकार

एक फरवरी को गौड़ा ने मंगलुरू के समीप एकाला गांव में कम्बाला दौड़ के दौरान सिर्फ 13.62 सेकंड में 142.5 मीटर की दौड़ लगाई थी। उन्होंने पहले 100 मीटर की दूरी सिर्फ 9.55 मीटर में तय की जिसके बाद उनकी तुलना कई बार के ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता उसेन बोल्ट से होने लगी जिनका 100 मीटर में विश्व रिकॉर्ड 9.58 सेकेंड का है। इसके बाद वह सोशल मीडिया पर छा गए थे।

लेकिन सोशल मीडिया पर सुर्खियां बटोरने वाले धावक श्रीनिवास गौड़ा ने बेंगलुरु स्थित भारतीय खेल प्राधिकरण (SAI) में ट्रायल देने से मना कर दिया है।

क्या है कंबाला रेस

कंबाला रेस या बफेलो रेस कर्नाटक का पारंपरिक खेल है। यह खेल कीचड़ वाले इलाके में आयोजित किया जाता है। कर्नाटक के तटीय इलाको मंगलूरू और उडुपी में यह खेल काफी प्रचलित है। यहां के कई गांवों में कंबाला का आयोजन किया जाता है, जिसमें दर्जनों उत्साही युवा अपनी सर्वश्रेष्ठ प्रशिक्षित भैंसों के साथ भाग लेते हैं।

इस दौड़ में लोग अपनी भैसों के साथ धान के खेतों में 142 मीटर दौड़ लगाते हैं। इस दौरान धावकों के हाथ में भैंसों की लगाम होती है। इससे साफ जाहिर होता है कि इस दौड़ में जानवरों की भी अहम भूमिका होती है। इन दिनों कंबाला दौड़ में आए दिन रिकॉर्ड बन रहे हैं जिससे यह चर्चा का विषय बनी हुई है।

 


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •