जस्टिस शरद अरविंद बोबड़े होंगे सुप्रीम कोर्ट के अगले मुख्य न्यायाधीश, 18 नवंबर को लेंगे शपथ

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Justice Sharad Arvind Bobde will be the next Chief Justice of INDIA

न्यायमूर्ति शरद अरविंद बोबडे भारत के 47वें प्रधान न्यायाधीश होंगे। सरकार से संबद्ध सूत्रों ने बताया कि उनके नियुक्ति के वारंट पर राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने हस्ताक्षर कर दिए हैं और जल्द ही एक औपचारिक अधिसूचना जारी की जा सकती है। सूत्रों ने बताया कि 63 वर्षीय न्यायमूर्ति बोबडे 18 नवम्बर को सीजेआई पद की शपथ ग्रहण करेंगे। इससे एक दिन पहले, 17 नवंबर को उनके पूर्ववर्ती न्यायमूर्ति रंजन गोगोई सेवानिवृत्त होंगे। उनके कार्यकाल में ही अयोध्या जमीन विवाद का फैसला आने के आसार हैं। गोगोई ने लगभग 13 महीनों तक भारत के मुख्य न्यायाधीश के रूप में कार्य किया।

गौरतलब है की एस.ए. बोबड़े अयोध्या भूमि विवाद की सुनवाई कर रही संविधान पीठ में भी शामिल हैं। उनके अलावा इस संवैधानिक पीठ में मौजूदा चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस अशोक भूषण, जस्टिस नजीर और जस्टिस चंद्रचूड़ शामिल हैं। अयोध्या मामले में पीठ से सुनवाई पूरी कर ली है, अब बस फैसला सुनाया जाना बाकी है।

Ayodhya_Bench including Justice Sharad Arvind Bobde | PC - Crimereview

बता दें कि पिछले दिनों प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई ने केंद्र को एक पत्र भेजकर उच्चतम न्यायालय में अपने बाद वरिष्ठतम न्यायाधीश एस ए बोबडे को अपना उत्तराधिकारी बनाने की सिफारिश की थी। परम्परा के अनुसार अपने उत्तराधिकारी के रूप में अपने बाद अगले वरिष्ठतम न्यायाधीश के नाम की सिफारिश की जाती है। न्यायमूर्ति गोगोई ने तीन अक्टूबर 2018 को देश के 46वें प्रधान न्यायाधीश के तौर पर शपथ ग्रहण की थी।

कौन हैं जस्टिस बोबड़े?

24 अप्रैल, 1956 को महाराष्ट्र के नागपुर में जन्में बोबड़े ने नागपुर विश्वविद्यालय से बी.ए और एल.एल.बी की डिग्री हासिल की है। नागपुर में जन्मे 63 वर्षीय बोबडे प्रख्यात न्यायविदों के परिवार से आते हैं। उनके पिता, अरविंद बोबड़े, महाराष्ट्र के पूर्व महाधिवक्ता थे। उनके पिता और भाई भी वकील थे, उनके भाई सुप्रीम कोर्ट में प्रैक्टिस करते थे।

1968 में मोहम्मद हिदायतुल्लाह के बाद, जस्टिस बोबडे नागपुर की बार एसोसिएशन से प्रतिष्ठित कुर्सी पर कब्जा करने वाले दूसरे व्यक्ति होंगे।

जस्टिस बोबडे 12 अप्रैल 2013 को न्यायमूर्ति कबीर द्वारा सुप्रीम कोर्ट का जज नियुक्त हुए थे। सुप्रीम कोर्ट आने से पहले जस्टिस बोबडे मध्य प्रदेश हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के पद पर थे। उन्हें अक्टूबर 2012 में 39 वें मुख्य न्यायाधीश अल्तमस कबीर द्वारा मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के रूप में नामित किया गया था।

जस्टिस बोबडे 23 अप्रैल 2021 तक मुख्य न्यायाधीश के पद पर रहेंगे।

 


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •