जम्मू-कश्मीर को लेकर ये है पीएम मोदी का मास्टर प्लान, सभी मंत्रियों को दिए गए निर्देश

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अनुच्छेद-370 के प्रावधानों को हटाए जाने के पांच माह बाद 18 से 25 जनवरी के बीच तीन दर्जन केंद्रीय मंत्री जम्मू-कश्मीर का दौरा करेंगे। गृह मंत्री अमित शाह की पहल पर यह कवायद हो रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार जम्मू-कश्मीर के हालात पर नजर बनाए हुए हैं।

इस दौरान केंद्रीय मंत्री वहां के लोगों से मुलाकात कर सकारात्मक प्रभावों और सरकार के विकास कार्यक्रमों के बारे में संवाद कर जानकारी देंगे। यात्रा कार्यक्रम को 17 जनवरी को केंद्रीय मंत्रिपरिषद की बैठक में अंतिम रूप दिए जाने की संभावना है।

गृह मंत्रालय के सूत्रों के अनुसार, यह मंत्री जिला और संभाग मुख्यालयों के साथ प्रमुख स्थानों का दौरा करेंगे। गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने मंत्रियों के इस दौरे के बारे में जम्मू कश्मीर के मुख्य सचिव बीवीआर सुब्रमण्यम को एक पत्र भी लिखा है। इसमें कहा गया है कि गृह मंत्री अमित शाह चाहते हैं कि केंद्रीय मंत्रिपरिषद के सभी सदस्य राज्य का दौरा करें और वहां के हालात की जानकारी लेने के साथ लोगों को अनुच्छेद 370 हटाने के बाद के सकारात्मक नतीजों और विकास में आई तेजी के बारे में जानकरी दें।

इस दौरान 51 यात्राएं जम्मू की और आठ यात्राएं श्रीनगर की होंगी। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी 19 जनवरी को रिसाई जिले के पंथाल व कटरा का दौरा करेंगी, जबकि रेल मंत्री पीयूष गोयल श्रीनगर जाएंगे। गृह राज्यमंत्री जी किशन रेड्डी 22 जनवरी को गंदरबल में व 23 जनवरी को मनिगाम जाएंगे। केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद 24 जनवरी को बारामुला जिले के सोपोर में जाएंगे।

अन्य मंत्रियों में वी के सिंह 20 जनवरी को उधमपुर जिले के टीकरी में, किरण रिजीजू 21 जनवरी को जम्मू के सुचेतगढ़ जाएंगे। केंद्रीय मंत्री आर के सिंह डोडा के खेलानी और श्रीपाद यशो नायक श्रीनगर में होंगे। अनुराग ठाकुर, गिरिराज सिंह, प्रहलाद जोशी, रमेश पोखरियाल निशंक, जितेंद्र सिंह, भी विभिन्न हिस्सों का दौरा करेंगे।

Originally published at https://www.livehindustan.com/

 


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •