अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर संयुक्त राष्ट्र में ॐ का जाप और योग

Yoga In UN

पांचवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर संयुक्त राष्ट्र जनरल असेंबली (महासभा) में भी भारतीय संस्कृति के ध्वजवाहक, “योग” का जलवा बिखरा| ऐसा पहली बार हुआ की संयुक्त राष्ट्र महासभा में योग कार्यक्रम का आयोजन हुआ हो| यहाँ यह उल्लेख करना ज़रूरी है कि अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के सूत्रधार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पहली बार संयुक्त राष्ट्र महासभा में ही 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाने का प्रस्ताव रखा था|

भारतीय स्थायी मिशन द्वारा आयोजित कार्यक्रम में भारी संख्या में संयुक्त राष्ट्र के अनेक अधिकारी, राजनयिक, और कई अन्य गणमान्य लोग उपस्थित हुए| ॐ शांति का उद्घोष करते हुए कार्यक्रम में हिस्सा ले रहे गणमान्य लोगों ने जलवायु परिवर्तन, अंतर्राष्ट्रीय सहिष्णुता और शांति को बढ़ावा देने के संदेश के साथ योग दिवस मनाया|

इस मौके पर संयुक्त राष्ट्र में भारत के राजदूत और स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरुद्दीन ने ट्वीट कर कार्यारम की झलकियाँ दुनिया के साथ साझा की

इस मौके पर संयुक्त राष्ट्र महासभा में हो रहे ॐ शांति के जाप की झलकियाँ, प्रेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया की न्यूयॉर्क और संयुक्त राष्ट्र की मुख्य संवाददाता, योषिता सिंह ने भी ट्वीट कर दुनिया को दिखाई|

निस्संदेह आज का दिन भारत के लिए गौरव का दिन है जब सम्पूर्ण विश्व भारतीय संस्कृति की धरोहर योग को अपना रहा है| भारत और भारत के लोग योग को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर लोकप्रिय बनाने के लिए प्रधानमंत्री मोदी के हमेशा आभारी रहेंगे|