कश्मीर के पुलवामा में सेना के साथ मुठभेड़ में 4 आतंकी ढेर

Jammu Kashmir

आज सुबह ही सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में चार आतंकवादियों को मार गिराया, इनमे से 2 आतंकी फरार SPO भी शामिल हैं| जानकारी के मुताबिक दोनों एसपीओ 24 घंटे पहले ही हथियार के साथ जैश-ए-मोहम्मद में शामिल हुए थे| यह ऑपरेशन दक्षिण कश्मीर के पुलवामा में सेना, पुलिस और सीआरपीएफ द्वारा संयुक्त रूप से किया गया था। सूत्रों के मुताबिक आतंकवादी जैश-ए-मोहम्मद के थे।

12 घंटे से जारी आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच की मुठभेड़ अब ख़तम हो गयी है|

गुरुवार शाम इंटेलीजेंस इनपुट मिला था कि पुलवामा जिले के अंतर्गत आने वाले पंजारन गांव के लस्सीापुरा इलाके के एक घर में तीन से चार आतंकी छिपे हुए हैं| सूचना मिलते ही सीआरपीएफ, राष्ट्रीय राइफल्स और जम्मू-कश्मीर पुलिस का स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप मौके के लिए रवाना हुआ|

इलाके में पहुँच कर सुरक्षाबलों ने आतंकियों का सर्च ऑपरेशन शुरू किया और कुछ ही देर में उस मकान का पता लगाने में कामयाब हो गए, जिसमें आतंकी छिपे हुए थे| सुरक्षाबलों ने आतंकियों को आत्मसमर्पण के लिए भी कहा पर जवाब में आतंकियों ने गोलीबारी शुरू कर दी| आतंकवादियों द्वारा सुरक्षाकर्मियों पर गोलियां चलाने के बाद जवाबी कार्रवाई में गोलियां चली और सेना ने चार आतंकियों को सफलतापूर्वक मार गिराया| । ऑपरेशन में शामिल अधिकारियों का कहना है कि मुठभेड़ स्थल से तीन राइफलें बरामद की गई हैं।

गौरतलब है कि आतंकवादियों द्वारा एक महिला की उसके घर पर ही गोली मारकर हत्या करने के दो दिन बाद ये मुठभेड़ हुआ है। बुधवार को, आतंकवादियों ने निगीना बानो के घर के अंदर जबरदस्ती घुसकर उसे मार डाला। पुलिस के मुताबिक हमले में एक अन्य नागरिक मोहम्मद सुल्तान भी घायल हुआ था।

बीते कुछ महीनों में सुरक्षा बलों ने घाटी में आतंकवाद विरोधी अभियान की गति को बढ़ावा दिया है। खबरों के मुताबिक, 2019 के पहले पांच महीनों में कश्मीर घाटी में 100 से अधिक आतंकवादी मारे गए हैं, जिनमें 23 विदेशी आतंकी थे। इनमें जाकिर मूसा जैसे शीर्ष कमांडर शामिल है, जो तथाकथित अंसार गज़ावत-उल-हिंद का प्रमुख था| सूत्रों के अनुसार ये आतंकी समूह अल-कायदा के साथ जुड़ा है।

पीटीआई सूत्रों के मुताबिक मारे गए आतंकवादियों में शोपियां का हिस्सा अधिकतम था, जहाँ 25 आतंकी मारे गए, उसके बाद पुलवामा में 15 आतंकवादियों को ढेर कर दिया गया| इसके अलावा अवंतीपोरा में 14 और कुलगाम में 12 आतंकवादी मारे गए|