जम्मू-कश्मीर: दिवाली से पहले सेना का सफाई अभियान जारी, जाकिर मूसा के वारिस हामिद लोन को सेना ने मार गिराया

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

दिवाली से पहले सेना का सफाई अभियान कश्मीर में जारी हैकश्मीर घाटी में आतंकियों को बड़ा झटका लगा है। जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के नापाक मंसूबों को कुचलने के लिए भारतीय सेना आतंक के आकाओं का चुन-चुनकर सफाया कर रही है। जाकिर मूसा के मारे जाने के बाद अल कायदा से जुड़े संगठन अंसार गजवत उल हिंद की कमान संभालने वाले आतंकी हामिद ललहारी (लोन) को भी अब सेना ने मंगलवार को मौत के घाट उतार दिया है। उसके साथ एक और आतंकी को सुरक्षाबलों ने ढेर किया है, जिसकी पहचान नावेद हुसैन के रूप में हुई है। दरअसल, ‘ऑपरेशन ऑलआउट’ के तहत सेना की रणनीति है कि आतंकी कमांडर चुने जाने या चर्चा में आते ही जल्द से जल्द टॉप आतंकियों को खत्म कर दिया जाए। इसका असर भी दिख रहा है और आतंकी संगठनों के हौसले पस्त हुए हैं।

आतंकवादी जाकिर मूसा के खात्मे के बाद आतंकी संगठन अंसार गजवत उल हिंद ने अपने नये चीफ का ऐलान किया था। जाकिर मूसा के बाद जम्मू-कश्मीर में खौफ फैलाने और दहशत फैलाने की जिम्मेदारी हामिद लोन नाम के आतंकी को दी गई थी।

हामिद लोन स्थानीय आतंकी है। हिजबुल मुजाहिदीन से जुड़े रहे कमांडर मूसा को 27 जुलाई 2017 को अंसार गजवत उल हिंद का चीफ बनाया गया था। अंसार गजवत उल हिंद कुख्यात आतंकी संगठन अल कायदा की भारत की शाखा का नाम है। इस संगठन का काम भारत में अल कायदा की गतिविधियां फैलाना है। जाकिर मूसा को इसी साल 24 मई को पुलवामा जिले में सेना की जॉइंट टीम ने एक मुठभेड़ में को ढेर कर दिया था। इसके बाद हामिद लोन नया चीफ बना था।

ऐसे की घेराबंदी

पुलिस को मंगलवार दोपहर को सूचना मिली थी कि जैश के तीन आतंकी त्राल के राजपोरा में काजीनाग आए हैं। इसके बाद दोपहर तीन बजे आतंकियों के खिलाफ अभियान शुरू किया गया। सुरक्षाबलों ने आतंकियों के ठिकाने की घेराबंदी की। जवान तलाशी लेते हुए आगे बढ़ ही रहे थे कि एक मकान में छिपे आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी और भागने की कोशिशें की। इसके बाद जवानों ने जवाबी कार्रवाई की। उक्त तीनों आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया। कश्मीर पुलिस ने ट्वीट कर इस एनकाउंटर की जानकारी दी। ये तीनों आतंकी अवंतिपुरा हमले सहित कई आतंकी गतिविधियों में शामिल रहे हैं। इनके खिलाफ कई आतंकी मामले दर्ज हैं।

मारे गए आतंकियों के पास से भारी मात्रा में गोला बारूद के अलावा आतंकी संगठन से जुड़े कई दस्तावेज, दो अत्याधुनिक वायरलेस और जीपीएस बरामद किया गया। पांच अगस्त के बाद से घाटी में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच यह छठी और दक्षिण कश्मीर में तीसरी मुठभेड़ है। इससे पहले 16 अक्टूबर को पुलवामा में तीन आतंकी मारे गए थे। सुरक्षाबलों ने 08 अक्टूबर को अवंतीपोरा के कावनी इलाके में लश्कर के उफैद और अब्बास नाम के दो आतंकियों को मार गिराया था।

मूसा गैंग का सफाया

जाकिर मूसा ने 10 आतंकियों की टीम के साथ अपने अंसार गजवत उल हिंद ग्रुप की शुरुआत की थी। हामिद लोन भी उनमे से एक था। जाकिर मूसा और लोन की तरह, इस संगठन के सभी लोग एक-एक करके मारे जा चुके हैं और एक तरह से इस संगठन का सफाया हो गया है।

 


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •