आईटीसी होटल और टपरवेयर नहीं करेंगे सिंगल-यूज प्लास्टिक का इस्तेमाल

 ITC Hotels and Tupperware will not use single-use plastic
Representative Image

एक बार इस्तेमाल कर फेंके जाने वाले यानी सिंगल यूज प्लास्टिक पर लगाम कसने की सरकार के अभियान को अब बड़े बड़े कंपनियों का भी साथ मिलने लगा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा देश में एकल उपयोग वाले प्लास्टिक के उपयोग को प्रतिबंधित करने की घोषणा के बाद आईटीसी होटल्स 31 दिसंबर से अपने सभी होटलों में एकल उपयोग वाले प्लास्टिक को बंद कर देगा।

आईटीसी होटल्स और वेलकम होटल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी दीपक हक्सर ने एक बयान में कहा, आईटीसी होटल्स दो दशक से अधिक समय से अपने लग्जरी प्रिमाइसेस के रूप में जिम्मेदार लग्जरी के साथ लंबे समय तक चलने वाले सामानों का इस्तेमाल करने के लिए जानी जाती है। उन्होंने कहा है कि होटल की नीति हमेशा से पर्यावरण के अनुकूल सामानों के इस्तेमाल को अपनाने की रही है।

उन्होंने कहा, “आईटीसी होटल 2012 में कांच की पानी की बोतलें पेश करने वाले पहले लोगों में से एक थे। इस तरह के प्रयास केवल एक अद्भुत और टिकाऊ भविष्य के लिए हमारी प्रतिबद्धता में वृद्धि करेंगे।”

दूसरी तरफ टपरवेयर ने कहा है कि वह एक अक्टूबर से सिंगल यूज प्लास्टिक की जगह पर रिसाइकिल किये जाने योग्य पैकेजिंग मैटेरियल का इस्तेमाल करेगी। टपरवेयर ने बयान जारी कर कहा है कि प्लास्टिक की जगह रिसाइकिल किये जाने योग्य सामान के इस्तेमाल से कंपनी के खर्च में सात फीसद तक की बढ़ोत्तरी होगी लेकिन इसका बोझ ग्राहकों पर नहीं डाला जाएगा।

कंपनी ने कहा है की छह माह के रिसर्च, विभिन्न ऑप्शंस पर विचार करने एवं भारत सहित चुनिंदा अंतरराष्ट्रीय बाजारों में शुरुआती परीक्षण के बाद एक अक्टूबर, 2019 से सिंगल-यूज प्लास्टिक पैकेजिंग की जगह पर नए पैंकिंग मैटेरियल को अपनाने का फैसला किया है।

बता दे की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत देश को प्लास्टिक मुक्त राष्ट्र बनाने के लिए एक बहुत बड़े अभियान की शुरुआत कर चुके है और यह जनभागीदारी और सबके सहयोग से ही संभव हो सकता है ।