कश्मीरी बच्ची की मासूमियत से भरी पीएम मोदी से मासूम अपील !

वैसे तो पीएम मोदी से गुहार हजारों लोग लगाते हैं और ज्यादातर सभी का काम पूरा भी हो जाता है लेकिन आज सोशल मीडिया में पीएम मोदी से एक छोटी बच्ची ने गुहार लगाई है। मासूम सी बच्ची की मसूमियत से भरी ये गुहार सोशल मीडिया पर खूब छाई रही। यहां तक कि जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल ने इस बच्ची की गुहार पर तुरंत ऐक्शन भी ले लिया है।

मासूम बच्‍ची की मासूम शिकायत

कश्मीर में रहने वाली 6 साल की एक बच्ची ने पीएम मोदी को एक विडियो बनाकर बताया कि होम वर्क से परेशान है। बच्ची ने विडियो में बोला ‘’सुबह 10 बजे से पहले उठ जाती हूं, दो बजे तक क्लास होती है। पहली अंग्रेजी, फिर गणित और उसके बाद कंप्यूटर। होम वर्क इतना कि पूछो न। छोटे बच्चों को इतना काम क्यों दिया जाता है। बड़े बच्चों जितना काम करने को दिया जाता है।‘’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर कश्‍मीर की एक बच्ची की यह शिकायती वीडियो इंटरनेट मीडिया में सुर्खियों में है। इस वीडियो में बच्‍ची प्रधानमंत्री से बड़े ही मासूम अंदाज में अपनी टीचर की शिकायत करती नजर आती है। वह कह रही है कि मैडम बहुत काम देती है।

उपराज्यपाल ने नई नीति लाने का दिया आदेश

इस मासूम शिकायती वीडियो को उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने गंभीरता से लिया है। उन्होंने स्कूल शिक्षा विभाग से 48 घंटे के भीतर नीति लाने के निर्देश दिए हैं। उपराज्यपाल ने प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त करते हुए कहा है कि बड़ी प्यारी शिकायत है। उन्होंने स्कूल शिक्षा विभाग से कहा कि ऐसी नीति बनाएं कि छोटे बच्चों पर होमवर्क का बोझ कम किया जा सके। बचपन, मासूमियत भगवान का उपहार है और बचपन के दिन खुशी, परमानंद वाले होने चाहिए।

कोरोना काल से ही सभी छोटे और बड़े बच्चो के क्लास ऑनलाइन लगाये जा रहे है। बच्चे घर पर रहकर ही बढ़ाई कर रहे है। ऐसे में बच्ची की ये शिकायत का असर शिक्षा व्यवस्था पर कितना पड़ेगा ये तो आने वे वक्त में ही पता चलेगा लेकिन ये जरूर है कि देश के प्रधान पर देश का बच्चा से लेकर बुजुर्ग तक में इतना विश्वास है कि आज अगर कोई बड़ा परिवर्तन कर सकता है तो वो मोदी जी है जो ये बताता है कि देश की जनता और प्रधान के बीच में कितना प्यार है।