जुलाई में भारत करेगा पहला सिमुलेटेड अंतरिक्ष युद्धाभ्यास

मार्च 2019 में अपने पहले एंटी सैटेलाइट मिसाइल के सफल परीक्षण से भारत ने अंतरिक्ष में अपनी बढ़ती सामरिक शक्ति का नमूना दुनिया को दिखाया था| इसी कड़ी में एक कदम आगे बढ़ते हुए भारत जुलाई में अपना पहला सिमुलेटेड अंतरिक्ष युद्धाभ्यास करने जा रहा है|

इंडस्पेसएक्स [IndSpaceEx] नामक यह अभ्यास वास्तव में एक टेबल टॉप वार गेम होगा जिसमें सेना और वैज्ञानिक समुदाय से जुड़ी सभी इकाइयाँ भाग लेगी| इन मामलों से जुड़े एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि, “अभ्यास का मुख्य लक्ष्य है भारतीय की राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए जरुरी काउंटर-स्पेस कैपबिलिटी की पड़ताल करना|” उन्होंने कहा कि अंतरिक्ष अब सैन्य दृष्टिकोण से बहुत ही ज्यादा प्रतियोगी हो चूका है और भारत अपनी सुरक्षा के लिए हर क्षेत्र में हर तरीके से तैयार है|

उल्लेखनीय है कि कुछ दिनों पहले ही चीन ने एक जहाज से राकेट प्रक्षेपण करके सात उपग्रहों को अंतरिक्ष में भेजा है| भारत ने भी मिशन शक्ति के अंतर्गत A-SAT मिसाइल का सफलतापूर्वक परीक्षण करके धरती की निचली कक्षा में 283 किलोमीटर की ऊंचाई पर स्थित 740 किलोग्राम के माइक्रोसैट-R उपग्रह को मार गिराया था|