23 से 25 अप्रैल के बीच आयोजित होगा भारतीय नौसेना कमांडर कांफ्रेंस

Vice-Admiral

23 से 25 अप्रैल के बीच भारतीय नौसेना के कमांडर सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा। नौसेना प्रमुख वाइस एडमिरल करमबीर सिंह की नियुक्ति घोषणा के बाद यह उनका पहला कांफ्रेंस होगा। । सम्मेलन में पाकिस्तान सीमा पर चल रहे तनाव सहित कई अन्य मुद्दों की समीक्षा की जाएगी। मालूम हो कि सीमा पर चल रहे तनाव को लेकर भारत ने हाल ही में एक बड़ा फैसला लेते हुए पाकिस्तान से LOC के जरिए होने वाले व्यापार पर रोक लगा दिया था| जिससे जुड़े सरकारी आदेश में कहा गया था कि, “जांच एजेंसियों को पता चला था कि पड़ोसी देश के तत्वों द्वारा अवैध हथियार, मादक पदार्थों और नकली मुद्रा की तस्करी के लिए इस मार्ग का दुरुपयोग किया जा रहा है| जिसके बाद यह कदम उठाया गया है|” हालाँकि आदेश में इसके साथ यह भी कहा गया था कि, “इसके लिए एक सख्त विनियामक और प्रवर्तन तंत्र तैयार किया जा रहा है और उसके लागू होने के बाद व्यापार मार्गों को फिर से खोलने के मुद्दे पर विचार किया जाएगा|”

indian-navy-commander-confe

केंद्र सरकार ने फ़िलहाल जम्मू के रास्ते पाकिस्तान के साथ होने वाले व्यापार को दो जगहों से बंद कर दिया है। गृह मंत्रालय ने बताया था कि 19 अप्रैल से जम्मू और कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर व्यापार को बंद कर दिया गया जाएगा। सरकार को खबर मिल रही थी कि एलओसी व्यापार मार्गों से अवैध मादक पदार्थों और नकली मुद्रा आदि की फंडिंग हो रही है, इसलिए ये कदम उठाया गया है।

इस सन्दर्भ में गृह मंत्रालय ने कहा कि एनआईए द्वारा कुछ मामलों की जांच के दौरान यह सामने आया है कि एलओसी से होने वाले व्यापार में कई गड़बडि़यां सामने आई हैं। ऐसी जानकारी मिली है कि यह व्यापार आतंकवाद / अलगाववाद को बढ़ावा देने वाले प्रतिबंधित आतंकी संगठनों से जुड़े व्यक्तियों द्वारा संचालित किया जा रहा है।

गृह मंत्रालय ने इस सम्बन्ध में यह भी कहा कि इसलिए जम्मू और कश्मीर में सलामाबाद और चाकण-दा-बाग में एलओसी व्यापार को निलंबित करने का फैसला लिया गया है। इस बीच, विभिन्न एजेंसियों के परामर्श से सख्त विनियामक और प्रवर्तन तंत्र पर काम किया जा रहा है। एलओसी व्यापार को फिर से खोलने के मुद्दे पर फिर बाद में विचार किया जाएगा।