पीओके मे इंडियन आर्मी ने आतंकवादियों पर बरपाया कहर

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

भारतीय सेना ने पाक अधिकृत कश्मीर मे स्थित कुछ आतंकवादी संगठनों पर बमबारी करते हुए उन्हें नष्ट कर दिया | सेना ने इन्हें चिन्हित कर रखा था तथा काफी समय से इन ठिकानों पर अपनी नजरें बनाये हुए थी |  

इंडियन आर्मी के पाकिस्‍तान अधिकृत कश्‍मीर में आतंकवादी ठिकानों को बर्बाद करने के बाद पाकिस्‍तान को जोरदार मिर्ची लगी है। पाकिस्‍तान की सेना ने एक बयान जारी करके आरोप लगाया है कि भारतीय सेना ने भारी तोपखाने की मदद से नागरिकों ठिकानों पर गोले बरसाए। पाकिस्‍तानी सेना ने कहा कि भारत के हमले में 4 नागरिक घायल हो गए हैं।

पाकिस्‍तानी सेना ने आरोप लगाया कि भारतीय सेना ने वर्ष 2020 में अब तक 708 बार सीजफायर का उल्‍लंघन किया है। पाकिस्‍तान ने कहा कि भारत ने भारी तोपखाने और मोर्टार की मदद से नियंत्रण रेखा पर स्थित शाहकोट सेक्‍टर में ये हमले किए। पाकिस्‍तानी सेना ने ऐसे समय पर यह आरोप लगाया है जब भारतीय सेना ने शुक्रवार को पाकिस्‍तान अध‍िकृत कश्‍मीर में आतंकवादियों के ठिकाने को बर्बाद कर अपने जवानों की शहादत का बदला ले लिया।

‘नापाक’ साजिश रचने वाले पाकिस्‍तान को सीधी चेतावनी

सेना की बोफोर्स तोपों ने भारतीय सीमा में आतंकवादियों को भेजने की ‘नापाक’ साजिश रचने वाले पाकिस्‍तान को सीधी चेतावनी दी। भारत ने ड्रोन विमान से लिए आतंकी ठिकाने पर हमले के वीडियो को जारी करके पाकिस्‍तान के हुक्‍मरानों और सेना को स्‍पष्‍ट संदेश दिया है कि हम न केवल मारेंगे, बल्कि उसे दुनिया को दिखाएंगे। पिछले दिनों उत्तरी कश्मीर के केरन सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पार से घुसपैठ कर आए एक आतंकवादी समूह और सुरक्षाबलों के बीच भीषण मुठभेड़ हुई थी।

इसमें सेना के स्‍पेशल फोर्सेस के 5 जवान शहीद हो गए थे। मुठभेड़ में पांच आतंकवादी भी मारे गए हैं। यह मुठभेड़ इतनी भीषण थी कि सेना के जवानों और आतंकवादियों के बीच आमने-सामने से लड़ाई हुई थी। दरअसल, बालाकोट हवाई हमले के बाद पाकिस्‍तान डर गया था और उसने आतंकवादियों को भारतीय सीमा में भेजना कम कर दिया था। हालांकि अब उसमें फिर काफी तेजी आ गई है।

 


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •