मोदी की कोशिश का कमाल – पर्यटन के क्षेत्र में भारत ने लगाईं लंबी छलांग

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

India ranked 34 in World Travel and Tourism Competitiveness Index

वैश्विक यात्रा और पर्यटन प्रतिस्पर्धात्मकता सूचकांक की लिस्ट जारी हो चुकी है। इस रिपोर्ट में बुधवार को कहा गया कि भारत दुनिया भर में यात्रा और पर्यटन प्रतिस्पर्धात्मकता सूचकांक में 34 वें स्थान पर पहुंच गया है। बीते साल भारत इस सूचकांक में 40वें स्थान पर था। यानी कि इस बार 6 अंकों का सुधार हुआ है और भारत उछलकर 34वें नंबर पर आ पहुंचा है। बता दें कि इस वर्ष वैश्विक यात्रा और पर्यटन प्रतिर्स्पधात्मकता सूचकांक में कुल 140 देश शामिल हुए हैं। वहीं शीर्ष पर एक बार फिर से स्पेन का कब्जा है। जारी की गई रिपोर्ट के मुताबिक भारत की रैंकिंग में सुधार की वजह प्राकृतिक और सांस्कृतिक संसाधन है। जिसमें समृद्ध होने के चलते ही भारत की रैंकिंग में सुधार हुआ है।

रिपोर्ट के अनुसार उप-क्षेत्रीय दृष्टिकोण से भी, भारत में बेहतर वायु बुनियादी ढांचे (33 वें) और जमीन और बंदरगाह के बुनियादी ढांचे (28 वें), अंतर्राष्ट्रीय खुलेपन (51 वें) और प्राकृतिक (14 वें) और सांस्कृतिक संसाधन (8 वें) हैं।

भारत ने अपने कारोबारी माहौल (89 वें से 39 वें), समग्र टीएंडटी(Travel & Tourism) नीति और बुनियादी ढांचे (58 वें से 55 वें) और सूचना और संचार प्रौद्योगिकी(112 वें से 105 वें स्थान) में काफी सुधार किया है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि साउथ एशिया में ट्रैवल और टूरिज्म में बड़ी भूमिका निभाने वाला भारत देश वैश्विक स्तर पर काफी अच्छा प्रदर्शन कर रहा है। रिपोर्ट के अनुसार, ज्यादा आय वाली इकोनॉमी न होने के बावजूद चीन, मेक्सिको, मलेशिया और भारत ने टॉप 35 में जगह बनाई हुई है।

वैश्विक यात्रा और पर्यटन प्रतिस्पेर्धात्मकता सूचकांक में स्पेंन के बाद जापान नंबर 4 पर है, ब्रिटेन 6वें स्था्न पर है। हालांकि इससे पहले ब्रिटेन 5वें स्थाान पर था। वहीं आस्ट्रे लिया 7वें पायदान पर है। चाइना 13वें नंबर पर, हॉन्ग-कॉन्ग 14 वें स्थान पर है। वहीं कोरिया 16 वें पर, सिंगापुर 17 वें नंबर पर है। इसके अलावा न्यू्जीलैंड 18वें स्थान पर, मलेशिया 29वें, थाइलैंड 31वें और इंडिया 34वें पायदान पर है।

बता दें कि 2015 में वर्ल्ड ट्रैवल और टूरिज्म कॉम्पेटिटिवनेस इंडेक्स में भारत का 52वां स्थान था। वहीं, 2017 में यह 40वें स्थान पर था।


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •