अमेरिका को पछाड़ भारत बना दुनिया का दूसरा सबसे आकर्षक मैन्‍यूफैक्‍चरिंग हब

 अमेरिका और एशिया-प्रशांत क्षेत्र की तुलना में विनिर्माता भारत में रुचि दिखा रहे हैं।

 

अमेरिका को पछाड़कर भारत दुनिया का दूसरा सबसे आकर्षक मैन्‍यूफैक्‍चरिंग हब बन गया है। रियल एस्टेट सलाहकार कुशमैन एंड वेकफील्ड ने यह जानकारी दी है। मुख्य रूप से लागत के मोर्चे पर दक्षता की वजह से विनिर्माण केंद्र के रूप में भारत का आकर्षण बढ़ा है। कुशमैन एंड वेकफील्ड ने बयान में कहा कि वैश्विक विनिर्माण जोखिम सूचकांक-2021 में चीन पहले स्थान पर कायम है। यह सूचकांक यूरोप, द अमेरिकाज तथा एशिया-प्रशांत (एपीएसी) के 47 देशों में से वैश्विक विनिर्माण के लिए आकर्षक या लाभ वाले गंतव्यों का आकलन करता है।

 

बयान में कहा गया है कि सबसे अधिक मांग वाले विनिर्माण गंतव्यों में चीन के बाद भारत दूसरे स्थान पर है। इस सूची में अमेरिका तीसरे, कनाडा चौथे, चेक गणराज्य पांचवें, इंडोनेशिया छठे, लिथुआनिया सातवें, थाइलैंड आठवें, मलेशिया नौवें और पोलैंड दसवें स्थान पर है। पिछले साल की रिपोर्ट में अमेरिका दूसरे और भारत तीसरे स्थान पर था।

 

बयान में कहा गया है कि इससे पता चलता है कि अमेरिका और एशिया-प्रशांत क्षेत्र की तुलना में विनिर्माता भारत में रुचि दिखा रहे हैं। बयान में कहा गया है कि परिचालन की परिस्थतियों तथा लागत दक्षता की वजह से विनिर्माण गंतव्य के रूप में भारत का आकर्षण बढ़ा है। इसके अलावा भारत ने आउटसोर्सिंग की जरूरतों को सफलतापूर्वक पूरा किया है। इससे सालाना आधार पर भारत की रैंकिंग में सुधार हुआ है।

 

रिपोर्ट में रैंकिंग के लिए चार प्रमुख मानकों को देखा जाता है, जिसमें विनिर्माण को दोबारा शुरू करने की देख की क्षमता, कारोबार माहौल (कौशल/श्रम की उपलब्‍धता, बाजार के लिए पहुंच), परिचालन लागत और जोखिम (राजनीतिक, आर्थिक और पर्यावरणीय) शामिल हैं।