राफेल के बाद भारत ला रहा नया लड़ाका

देश की सीमा को मजबूत करने के लिए मोदी सरकार लगातार सेना को मजबूत करने में जुटी है। इसी क्रम में भारत अब अमेरिका से ऐसा फाइटर जेट खरीदने का प्लान बना रहा है, जो दुश्मनों को किसी भी वक्त पस्त करने का माद्दा रखता है। वो जंग का इतना बड़ा खिलाड़ी है कि अब तक उसका एक भी ऑपरेशन फेल नहीं हुआ है। उसका नाम सुनकर ही दुश्मन सेना के होश उड़ जाते हैं और वो नाम है F-15 EX लड़ाकू विमान चलिए जानते है इसके बारे में …

F-15 EX लड़ाकू विमान को खरीदने का मोदी सरकार का प्लान

भारत के उत्तर में चीन तो पश्चिम में पाकिस्तान दोनो मुल्क ही भारत को घेरने की कोशिशों में जुटे हैं। ऐसे में मोदी सरकार देश की सुरक्षा के लिए नये तरीके का खाका खीचने में लगा हुआ है जिसके तहत अगर दोनो मोर्चे पर जंग लड़ने की बारी आये तो भारत दोनो को एक साथ हरा सके। LAC पर जो मौजूदा हालात हैं, वो इस बात का साफ इशारा कर रहे हैं कि भारत और चीन के बीच कभी भी युद्ध का आरंभ हो सकता है। चीन और पाकिस्तान के नापाक चाल को देखते हुए भारतीय फौज और इंडियन एयरफोर्स लगातार खुद को मजबूत करने में जुटी है। वायुसेना में राफेल की तैनाती हो चुकी है, लेकिन अब भारत राफेल से भी ताकतवर फाइटर जेट खरीदने की प्लानिग कर रहा है। इंडियन एयरफोर्स अमेरिका से अत्याधुनिक F-15 EX जंगी विमान खरीद सकता है। इस विमान को बनाने वाली अमेरिकन कंपनी बोइंग ने भारत को ये विमान देने का ऑफर किया है। अगर हिंदुस्तान इस ऑफर को स्वीकार करता है तो भारत को F-15 EX लड़ाकू विमान मिलते ही भारतीय वायुसेना की ताकत कई गुना बढ़ जाएगी। इस एक डील से ही चीन और पाकिस्तान की परेशानी बहुत बढ़ जाएगी।

F-15 EX लड़ाकू विमान की ताकत

F-15 EX 2.5 लडाकू विमान की ताकत की बात करे तो इसकी स्पीड 3 हजार किमी. प्रति घंटा है और इसे कोई भी राडर नही पकड़ सकता है। F-15 EX की सबसे बड़ी खासियत ये है कि ये विमान अपने साथ 14 टन का हथियार लेकर जा सकता है और दुश्मन के खेमे में तबाही मचाकर वापस लौट आएगा है। इसमें डबल इंजन लगा हुआ है, जोकि बहुत ही पावरफुल है। साथ ही दूसरे विमान की तुलना में ये ईंधन बहुत ही कम लेता है। मतलब इसकी स्पीड और गोला बारूद ले जाने की क्षमता बहुत ज्यादा है, लेकिन ये फ्यूल बहुत ही कम खपत करता है। इसलिए युद्ध के मैदान में ये बहुत ही कारगर और किफायती भी है। 22 एयर-टू-एयर मिसाइल ले जा सकता है। हाइपरसोनिक जैसी विध्वंसक मिसाइल को फायर कर सकता है। इसका रडार बहुत ही पावरफुल है। जिससे वो बहुत जल्द ही अपने टारगेट का पता लगा लेता है। ये एक साथ मल्टिपल टारगेट को ट्रैस कर सकता है और उनपर सटीक निशाना लगा सकता है। अमेरिका का सबसे ताकतवर फाइटर जेट है और विश्व में इसकी सबसे बेहतर फाइटर प्लेन माना जाता है।

जाहिर है अगर अमेरिका का ये घातक विमान भारतीय वायुसेना के बेड़े में शामिल होता है, तो राफेल और F-15 EX मिलकर चीन और पाकिस्तान के छक्के छुड़ा देंगे।