चुनौतियों को हराता आया है भारत –पीएम मोदी

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

लंदन में चलने वाले भारत ग्लोबल वीक 2020 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने  एक बार फिर से देश की आर्थिक तंत्र को मजबूत करने का मंत्र बताया। इस दौरान पीएम ने विश्व को ये कि भारत वो देश है जो हर बार विपदा के बाद और ज्यादा तेजी से निखर कर उभरता है। बड़ी से बड़ी चुनौतियों को भी भारत अवसर में बदल देता है।

आपदा को अवसर में बदलने का वक्त

भारत ग्लोबल वीक 2020 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आर्थिक पुनरुद्धार की चर्चा के दौरान वैश्विक पुनरुद्धार और भारत को जोड़ना स्वाभाविक है. पीएम मोदी ने कहा कि इतिहास बताता है कि भारत ने हर चुनौतियों से पार पाया है, चाहे वे सामाजिक हों या आर्थिक अंतरराष्ट्रीय समुदाय को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, ‘हमें पहले ही आर्थिक पुनरुद्धार के संकेत मिलने लगे हैं। भारत दुनिया की सबसे खुली अर्थव्यवस्थाओं में से एक है. हम वैश्विक निवेशकों का स्वागत कर रहे हैं 9 से 11 जुलाई तक चलने वाले इस समारोह में पीएम मोदी ने दवाओं की लागत कम करने में भारत की भूमिका का हवाला देते हुए कहा, ‘देश का फार्मा उद्योग न केवल भारत के लिए बल्कि पूरे विश्व के लिए एक पूंजी है.’इसके अलावा प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आत्मनिर्भर भारत का अर्थ आत्मकेंद्रित होना या दुनिया से खुद को बंद कर लेना नहीं है, यह आत्मनिर्भर होने, आत्मोत्पादन करने के बारे में है. भारत वैश्विक भलाई, समृद्धि के लिए जो कुछ भी कर सकता है, करने के लिए तैयार है।

आत्मनिर्भर भारत का सपना होगा सच

इतना ही नही पीएम ने इस मंच से भी 130 करोड़ लोगो की क्षमता के बल पर ऐलान किया कि भारत आने वाले दिनो में आर्थिक सामाजिक हर तरह से आर्मनिर्भर होगा। इसके लिए जिस तरह से सरकार ने देश में रोजगार लगाने के लिए आम लोगो को पैकेज दिया है इसका असर भी दिखने लगा है देश में उत्पादन आज कोरोना काल में भी तेजी से बढ़ रहा है। हालाकि कुछ सेक्टर ऐसे है जहां मंदी अभी भी दिख रही है। लेकिन कयास लगाया जा रहा है कि आने वाले दिनो में मंदी के बादल वहां से भी जल्द छटेंगे। वैसे देखा जाये तो कोरोना काल में विश्व के दूसरे देशों को देखते हुए भारत की आर्थिक स्थिति को बेहतर रहने का दावा कई आर्थिक जानकार कर चुके है और इसके पीछे की सबसे बड़ी वजह ये है कि भारत में निवेश बढ़ रहा है। एफडीआई भी मुल्क में आ रही है। तभी तो जानकार मान कर चल रहे हैं कि कोरोना से तेजी से उभरने वाली अर्थव्यवस्था भारत की होने वाली है. और इसके पीछे की वजह देश में मोदी सरकार का आत्मनिर्भर बनने का सपना है जो सच होता दिख रहा है।

कुल मिलाकर पीएम ने देश को आत्मनिर्भर बनाने का मंत्र तो दिया ही साथ में जोश और उत्साह भी भरा कि कठिन अवसर में देश हमेशा तेजी के साथ निखरा है और आगे बढ़कर एक नया भारत बनकर विश्व को रास्ता दिखाया है। जैसा कि कोरोना काल में भी होने वाला है। जिसकी नीव पड़ चुकी है। बस इमारत खड़ी होने का इंतजार अब सबको है।


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •