नई ड्रेस पर विवाद के बाद राज्यसभा में मार्शल जोधपुरी सूट में बिना पगड़ी के नजर आए

राज्य सभा की कार्यवाही के दौरान मार्शलों की ड्रेस - फोटो : ANI

18 नवंबर 2019 से संसद का शीतकालीन सत्र शुरू होने के बाद राज्यसभा में मार्शल के नए ड्रेस को लेकर विवाद हो गया था। लेकिन आज राज्यसभा के सभापति के पास सदन में खड़े रहने वाले मार्शलों की ड्रेस आज फिर बदल गई। सोमवार को राज्यसभा में मार्शल सेना जैसी वर्दी के बजाय सामान्य बंद गले वाले जोधपुरी सूट में नजर आए और उनके सर पर पगड़ी भी नहीं थी। राज्यसभा की 250वीं बैठक के मौके पर सचिवालय ने 18 नवंबर को मार्शलों की ड्रेस बदली थी।

Rajya Sabha, Marshall Army Like dress

नयी वर्दी की कुछ संसद सदस्यों तथा सेना के कुछ पूर्व अधिकारियों की ओर से आलोचना किये जाने के बाद सभापति एम वेंकैया नायडू ने मार्शलों के ड्रेस कोड की समीक्षा के आदेश दिए थे। जिसके बाज सोमवार को सदन की बैठक शुरू होने पर आसन के दोनों ओर खड़े रहने वाले मार्शल सेना जैसी वर्दी के बजाय गहरे रंग के सामान्य बंद गले के सूट में नजर आए। इसका रंग ओलिव ग्रीन है, जो कि नई मिलिट्री स्टाइल ड्रेस से बिल्कुल अलग है। एक कांग्रेस सदस्य ने इस पर टिप्पणी की- वेरी स्मार्ट। राज्यसभा के मार्शल करीब 50 साल से ब्राउन जोधपुरी सूट और पगड़ी पहन रहे थे।

सेना जैसी वर्दी के बारे में राज्यसभा सचिवालय के सूत्रों ने बताया था कि नयी वर्दी का डिजाइन नेशनल इन्स्टीट्यूट ऑफ डिजाइन (एनआईडी) ने तैयार किया था।

सूत्रों ने यह भी कहा था कि तीन चार विधानसभा के मार्शलों की वर्दी का अध्ययन करने के बाद उच्च सदन के मार्शलों की नयी वर्दी डिजाइन की गई थी।