कोविड-19 से जंग में भारत के निर्णायक कदमों की दुनिया भर में प्रशंसा, बिल गेट्स व WHO ने किया ये ट्वीट

नई दिल्‍ली/न्‍यूयार्क, प्रेट्र। कोविड-19 महामारी से जंग में भारत के कदमों की दुनिया भर में सराहना हो रही है। इस क्रम में वैश्‍विक नेताओं ने भारत में किए जा रहे वैज्ञानिक पहलों और लिए जा रहे निर्णायक फैसलों की प्रशंसा की है। भारत में महामारी को खत्‍म करने के लिए एक के बाद एक फैसले लिए जा रहे हैं जिसकी प्रशंसा में माइक्रोसॉफ्ट के सह संस्‍थापक बिल गेट्स और विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन के महासचिव टेड्रोस अधनम घेब्रेसस ने ट्वीट किया है।

माइक्रोसॉफ्ट के सह संस्‍थापक बिल गेट्स ने सोमवार को ट्वीट कर कहा, ‘कोविड-19 से दुनिया की जंग में भारत के वैज्ञानिक पहलों और वैक्‍सीन निर्माण की क्षमता को देख खुशी हो रही है।’ उन्‍होंने अपने इस ट्वीट में प्रधानमंत्री के कार्यालय पीएमओ (Prime Minister’s Office) को भी टैग किया है।

इसके अलावा विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन (World Health Organization) के महासचिव टेड्रोस अधनम घेब्रेसस (Tedros Adhanom Ghebreyesus) ने भी ट्वीट कर भारत की सराहना की है। उन्‍होंने लिखा, ‘कोविड-19 महामारी को खत्‍म करने के प्रति अपनी प्रतिबद्धता जताते हुए भारत निर्णायक कदम उठा रहा है। यदि हम साथ मिलकर काम करेंगे तो हर जगह प्रभावी व सुरक्षित वैक्‍सीन की मौजूदगी को सुरक्षित करा सकेंगे।’ उन्‍होंने अपने ट्वीट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) को भी टैग किया है।  

 उल्‍लेखनीय है कि भारत में दुनिया का सबसे बड़ा कोविड-19 वैक्‍सीन अभियान शुरू होने जा रहा है। ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने रविवार को ऑक्‍सफोर्ड कोविड-19 वैक्‍सीन कोविशील्‍ड और भारत बायोटेक की कोवैक्‍सीन को मंजूरी दे दी। कोवीशील्‍ड वैक्‍सीन का निर्माण सीरम इंस्‍टीट्यूट द्वारा किया गया  और कोवैक्‍सीन को देश में ही भारत बायोटेक ने विकसित किया है।  

ऑक्सफोर्ड के कोविड-19 टीके ‘कोवीशील्ड’ और भारत बायोटेक के स्वदेश में विकसित टीके ‘कोवैक्सीन’ के देश में सीमित आपात इस्तेमाल को मंजूरी मिल चुकी है। जिससे व्यापक टीकाकरण अभियान का रास्ता साफ हो गया है।

Published on : Jagran.com