सरकार बनते ही मोदी एक्शन मोड में, पहली कैबिनेट बैठक में लिए कई अहम फैसले

बीते गुरुवार यानि 30 मई 2019 को हुए शपथ ग्रहण समारोह में एक बार फिर नरेन्द्र मोदी ने प्रधानमंत्री पद की शपथ ली और उनके साथ-साथ उनके नए कैबिनेट के मंत्रियों ने भी शपथ लिया| आधिकारिक तौर पर नयी सरकार का गठन 30 मई को हुआ| और अगले ही दिन से मोदी और उनकी गठित कैबिनेट ने कई अहम फैसले लेने शुरू भी कर दिए|

गौरतलब बात ये है की नयी सरकार के गठन होने की अभी बधाइयाँ भी पूरी नहीं हुई, उससे पहले ही मोदी और उनके कैबिनेट के मंत्रियों ने अपनी बैठक बुला ली और कई अहम मुद्दों पर फैसला भी लिया | ऐसा लगता है मोदी देश की जनता को ये आश्वासन देना चाहते है की दुबारा उनको अपना प्रतिनिधित्व बना कर जनता ने कुछ गलत  नहीं किया है |

अपने चुनाव प्रचार के दौरान, बीजेपी के द्वारा जारी किये गए घोषणा पत्र में मोदी ने बहुत सारे वादे किये थे जिनको एक-एक करके पूरा करने में वो और उनके कैबिनेट मंत्री शिद्दत से जुट गए है|

कैबिनेट मीटिंग

क्या थे बीजेपी की घोषणापत्र में मोदी के वादे

बीजेपी के घोषणापत्र में ये वादा किया गया था की अपनी 2014 के कार्यकाल में शुरू की गयी पीएम किसान योजना के कवरेज को और भी बढ़ाएंगे ताकि देश के ज्यादा से ज्यादा किसानों को इसका लाभ मिल सके| सरकार ने किसान और उनके परिवार को आर्थिक तौर पर सुरक्षा देने के लिए, किसानों के लिए पेंशन की सुविधा को शुरू करने का वादा भी किया| साथ ही साथ उन्होंने छोटे दुकानदारों और व्यापारियों के लिए भी पेंशन की सुविधा शुरू करने का वादा किया था|

किन किन वादों को किया गया पूरा

बीते शुक्रवार यानि की 31 मई को गठित की गयी नयी सरकार की कार्यकाल की शुरुवात हुई और साथ ही साथ PM मोदी और उनके कैबिनेट मंत्रियों की पहली बैठक| इस बैठक में कई अहम मुद्दों पर फैसले लिए गए या यूँ कहे की बीजेपी की घोषणापत्र में मोदी जी ने जो वादे किये उनको पूरा किया और वो भी 24 घंटों के अन्दर| बैठक में पीएम किसान योजना के कवरेज को बढ़ाने की मंजूरी दी गयी जिससे लगभग 14.5 करोड़ किसानों को लाभ मिल सकेगा| यही नहीं किसान और उनके परिवार को आर्थिक मजबूती देने के लिए किसानों को पेंशन देने की सुविधा को भी हरी झंडी दिखाई गयी| मुहं और पैरों के संक्रमित बीमारियों से पशुधन को बचाने के लिए सरकार के तरफ से एक खास तरीके का स्कीम लांच किया गया और ब्रूसीलोसिस जैसी खतरनाक बीमारियों से बचने के लिए टीकाकरण के कवरेज को बढ़ने के निर्देश दिए गए|

यहीं नहीं छोटे दुकानदारों और व्यापारियों की  परिस्थिति को सुधारने के लिए, उनके लिए भी पेंशन की सुविधा का एलान किया गया| यह पेंशन की सुविधा उन दुकानदारों और व्यापारियों के लिए होगी जिनका सालाना कारोबार 1.5 करोड़ या उससे कम होगा| इस योजना के तहत करीब 3 करोड़ लोगों को फ़ायदा मिलेगा |

PM मोदी और उनके कैबिनेट मंत्रियों का फुल एक्शन मोड देख कर तो सभी हैरान रह गए है | वैसे तो देश की जनता को ये पता था की मोदी अपने अगले कार्यकाल में उनके लिए सौगातों की बहार लेकर आयेंगे पर इतनी जल्दी लेकर आयेंगे ये नहीं जानते थे| मुद्दे की बात तो ये है की अभी तो ये शुरुआत है और अगले पांच साल अभी बाकी है| अगले पांच साल में मोदी की पोटली से जनता के लिए कितनी सौगातें निकलती है ये देखना मज़ेदार होगा|