प्रधानसेवक होने के नाते आपकी हर भावना का सहभागी हूं: मोदी

भारत वो देश जो आपदाओं के वक्त एक अलग रूप में निखरता है, भारत वो देश जो कभी भी किसी भी मुश्किल से हार नही मानता है, हमेशा बड़ी से बड़ी कठिनाई को हराकर अपने कल को सँवारता है। आज भी हालात कुछ इसी तरह के है जब भारत एक अदृश्य दुश्मन यानी कोरोना से लड़ रहा है। कुछ यही बात पीएम मोदी ने आज देशवासियों को बताया और देश का मनोबल बढ़ाते हुए साफ किया कि भारत लड़ भी रहा है और कोरोना को हराकर ही दम लेंगा।

कोरोना मरीजों का दर्द महसूस कर पा रहा हूं: मोदी

यू तो मौका था किसानो के खाते में किसान सम्मान निधि की रकम भेजने की लेकिन इस मौके पर पीएम मोदी ने देश की जनता के साथ कोरोना माहामारी को लेकर अपनी बात रखी। जब पीएम अपनी बात रख रहे थे तो वो भावुक थे। उन्होने जनता से बोला कि ‘कोविड से प्रभावित लोगों की पीड़ा, दर्द को महसूस कर सकता हूं। हमारा सामना एक अदृश्य दुश्मन से है। इस कोरोनावायरस के कारण, हमने अपने करीबी लोगों को खो दिया है। नागरिकों को जो दर्द हुआ है, जो कई लोगों ने अनुभव किया है, मैं इसे समान रूप से महसूस कर रहा हूं। लेकिन इसके साथ उन्होने बोला कि भारत कभी हार नही मानता है हमेसा ही विजय होने वाला भारत इस आपदा को भी हराकर बाहर आयेगा। बस इसके लिये हम सब को सजग रहना होगा।

राज्य सरकार से पीएम मोदी का आग्रह

वैसे वायरस ने कई म्यूटेंट वायरस को जन्म दिया है जिस वजह से कोरोना की दूसरी लहर ने इतना भयानक रूप ले लिया है। लेकिन इससे निपटने के लिये देश में वैक्सीनेशन का काम तेजी से किया जा रहा है लगभग 18 करोड़ वैक्सीन की खुराक दी जा चुकी है। देशभर के सरकारी अस्पताल फ्री डोज दिये जा रहे हैं। ऐसे में आप सभी देशवासियों से अनुरोध है कि अपना नबंर आने पर वैक्सीन जरूर लगवाये। इसके साथ उन्होने बोला 100 साल बाद आई इतनी भीषण महामारी कदम-कदम पर दुनिया की परीक्षा ले रही है। इस संकट के समय में दवाइयों और जरूरी वस्तुओं की जमाखोरी और कालाबाजारी में भी कुछ लोग अपने निहित स्वार्थ के कारण लगे हुए हैं। ऐसे में राज्य सरकारों से आग्रह है कि ऐसे लोगों पर कठोर से कठोर कार्रवाई की जाए जिससे देश इस आपदा से निपट सके और देश फिर से आगे बढ़ सके। बस इसके लिये सबको मिलकर प्रयास करना होगा।

जो लोग ये आरोप लगा रहे है कि पीएम मोदी आपदा के वक्त कुछ नहीं बोल रहे है वो ये समझ ले कि पीएम इस वक्त सिर्फ देश को संकट से निकालने में जुटे है और देश में जो हालात बने है उसका दर्द और दुख वो भी सह रहे है । ऐसे में कोई कितना भी गलत प्रचार कर ले देस की जनता मोदी जी के साथ खड़े होकर इस विपदा से निपट रही है और ये पूरा विश्वास भी है की अंत में जीत भी हमारी ही होगी।