इज्ज़त घर ने प्रधानमंत्री मोदी की बढाई इज्ज़त

modi_toilet

23 सितम्बर 2017 को बनारस के शाहंशाहपुर गांव के वनवासी बस्ती दौरे के दौरान प्रधानमंत्री ने जिस शौचालय की नींव  इज्ज़त घर का नाम देते हुए रखी थी, वहां ग्रामीणों के दिलो में पीएम मोदी की इज्जत बहुत बढ़ गई है। और इस इज्ज़त को दर्शाते हुए वहां के निवासियों ने मोदी को 61.85 फीसद वोट दे कर अपना आभार समर्पित किया है|

अगर चुनाव परिणामों का विश्लेषण करे तो शाहंशाहपुर में दो बूथ 316 व 317 बनाए गए थे। इन दोनों बूथ पर 1429 मत पड़े। इसमें पीएम मोदी को 799, अजय राय को 56 व गठबंधन प्रत्याशी शालिनी यादव को 417 मत मिले हैं। बूथवार बात करें तो 316 पर पीएम मोदी को 316, अजय राय को 40 व शालिनी यादव 66 मत मिले। बूथ 317 पर पीएम मोदी को 483, अजय राय को 16 व शालिनी यादव को 351 मत मिले हैं। परिणामों से यह साफ़ ज़ाहिर है की गाँव वालो के दिलो में मोदी ने अपनी जगह बना ली है|

बस्ती के अधिकांश लोगो ने मोदी को ही वोट दिया है, पीएम मोदी ने उस गाँव में शौचालय की ईट रखते हुए कहा था कि स्वच्छता मेरे लिए एक पूजा है, और इस गाँव में मुझे शौचालय की ईट रखने का सौभाग्य मिला इस वजह से मैं अपने आप को सौभाग्यशाली समझता हूँ| स्वच्छता से देश में गरीबो को बीमारी और इलाज के आर्थिक बोझ से मुक्ति मिलेगी| ग्रामीणों की माने तो शौचालय को इज्जत घर का नाम दे कर प्रधानमंत्री ने सचमुच ही गाँव वालो का मान सम्मान बढाया है, और शौचालय हमारी बहन बेटियों के लिए इज्ज़त घर से कम भी नहीं है| अब उन्हें खुले में शौच के लिए नहीं जाना पड़ता|

इस गाँव से प्रेरणा लेते हुए बरेली की 48 महिला प्रधानों ने अपने गांवों में सभी शौचालयों को ‘इज्जतघर’ नाम देकर मिसाल कायम किया था| महिला प्रधानों ने अपने गांवों को ओडीएफ (खुले में शौचमुक्त) कर दिया है।