लॉकडाउन में जरूरी सामान को लेकर न लें टेंशन

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

लॉकडाउन में जरूरी सामान को लेकर न लें टेंशन 

लॉकडाउन के वक्त आप की सबसे बड़ी चिंता अगर हर रोज यूज होने वाली वस्तुओं को लेकर है तो अब आप इसकी चिंता न करें क्योंकि पुलिस विभाग के बाद इस काम का मोर्चा देश के सबसे बड़े विभाग डाक सेवा ने उठा लिया है। जिसके चलते अब डाक विभाग घर-घर दवाएं, सब्जियां और राशन देते हुए नजर आये तो इसमे चौकने वाली कोई बात नही होगी क्योंकि अब ऐसा होने वाला है।

डाकिया पहुंचायेगा जरूरी सामान 

डाकिया डाक लाया डाकिया डाक लाया ख़ुशी का पैगाम कहीं कहीं दर्दनाक लाया,  इस गाने के बोल से आप समझ गये होंगे कि हम किसकी बात कर रहे हैं। तो आप बिलकुल ठीक समझे हैं हम डाक विभाग की बात कर रहे हैं। लॉकडाउन और कोरोना के इस कठिन दौर में जिस तरह से हर तरफ तालाबंदी है ऐसे में फैसला किया गया है कि डाक सेवा लोगों तक जरूरी सामान भी पहुंचायेगा। मसलन अब डाक विभाग घर-घर दवाएं, सब्जियां और राशन भी देते हुए देखें जायेंगे। ऐसा इस लिये किया गया है, क्योंकि कुछ राज्यों ने अपने कुछ जिलों को पूरी तरह से सील कर दिया है और वहां दुकाने भी बंद कर दी गई है। ये कदम राज्य ने तब उठाया है जब जमात के लोगों के चलते इन इलाकों में एका एक कोरोना से पीडितों की संख्या काफी बढ़ने लगी है। ऐसे में इन इलाकों में डाक सेवा के जरिए  आम जरूरत की वस्तुओं का सामान पहुंचाया जायेगा। इसमें दवा फल सब्जी और दूसरी वस्तुएं है। खासकर कोरोना को जांच करने वाली किट भी डाकिये से आप के घर बड़े आराम से आ सकती है। 

पुलिस भी पहुंचा रही सामान

लॉकडाउन के चलते लोग नियम न तोड़ें ऐसे में पुलिस न केवल सख्त रुख अपना रही है, बल्कि लोगों को मदद के लिए जरूरी खाने पीने का सामान भी भेज  रही है। अगर बात यूपी की करें, तो यहां ज्यादातर इलाको में पुलिस दूध, सब्जी और दूसरी वस्तुओं को पहुंचाने में लगी हुई है। कई किस्से ऐसे भी सामने आये हैं कि लोगों ने पुलिस से गुहार लगाई तो दूर बैठे उनके रिश्तेदारों की सहायता भी पुलिस ने की है। इसी तरह मध्यप्रदेश हो उड़ीसा हो या फिर गुजरात हर जगह पुलिस भी सामान पहुंचाने में लगी है। जिससे लोगो को दिक्कत न हो और वो लॉकडाउन का पालन कर सकें। 

ऑनलाइन कंपनियों से भी लोग खरीद रहे सामान

कोरोना के चलते सरकार ने जब लॉकडाउन का ऐलान किया था तब ही साफ कर दिया था कि ऑनलाइन कंपनियों से जरूरी सामान खरीदा जा सकता है। लेकिन ये सुविधा सिर्फ महानगरों तक होने के चलते इसका फायदा आम लोगों तक नही पहुंच पा रहा था, लेकिन अब डाक सेवा के जरिये समूचे भारत में इसका फायदा होते हुए देखा जायेगा।

 

मतलब साफ है कि सरकार की पूरी कोशिश है कि लॉकडाउन के दौरान किसी भी तरह की दिक्कत न हो खासकर जब कुछ इलाकों को पूरी तरह से सील कर दिया गया है और ये इसलिये किया गया है, क्योंकि इन इलाकों में कोरोना संक्रमण काफी देखा गया है। ऐसे में अगर यहां पूरी तरह से सील नहीं लगाया जाता है, तो देश कोरोना के तीसरे चरण में प्रवेश कर जायेगा जो काफी भायावर होगा। शायद इसीलिये इन इलाकों को पूरी तरह से सील किया गया है। लेकिन इस दौरान एतिहात के तौर पर हर तरह का सामान आमजन तक पहुंच जाये, इसके लिये डाक सेवा का इस काम में लगना सच में सरकार का एक बड़ा कदम है, जिससे आम लोगों की टेंशन जरूर दूर होगी। वही डाक विभाग जो पहले से ही हमारे सुख दुख का साथी कहलाता है, इस मुश्किल दौर में वो फिर से इस बात को और पुख्ता करेगा कि ये कथन सौ फीसदी सत्य है। तो इस दौरान पुलिस का जो रूप देखा जा रहा है वो भी काबिले तारीफ़ है।  


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •