भारत में रेलवे स्टेशन के विकास के लिए फ्रांस ने 7 लाख यूरो देने का समझौता किया

Indian Railways
प्रतीकात्मक फोटो

भारतीय रेलवे यात्रियों की सुविधाओं और स्टेशनों के आधुनिकीकरण पर लगातार जोर दे रहा है और आने वालें दिनों में भारत के रेलवे स्टेशनों की चमक और बढ़ने वाली है। दरअसल इंडियन रेलवे स्टेशन डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन या IRSDC ने फ्रेंच नेशनल रेलवे एसएनसीएफ और फ्रेंच डेवलपमेंट एजेंसी AFD के साथ एक त्रिपक्षीय समझौता किया है, जिसके तहत भारत के रेलवे स्टेशन विकास कार्यक्रम के लिए निर्माण क्षमता को बढ़ावा देने के लिए 7 लाख यूरो तक का अनुदान दिया जाएगा।

इस समझौते पर सुरेश अंगदी, रेल राज्य मंत्री, और जीन बैप्टिस्ट लेमोयने, यूरोप के राज्य मंत्री और फ्रांस के विदेश मामलों के मंत्री, अलेक्जेंड्रे ज़िग्लर, भारत में फ्रांस के राजदूत और फ्रांसीसी दूतावास तथा भारतीय रेलवे के अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

भारतीय रेलवे द्वारा एक बयान जारी कर कहा गया है की, “इस समझौते के तहत, एएफडी, भारत में रेलवे स्टेशन विकास कार्यक्रम के लिए क्षमता निर्माण का समर्थन करने के लिए IRSDC के लिए एक तकनीकी भागीदार के रूप में, एसएनएफ-हब्स और कॉनेक्जियन्स के माध्यम से 7,00,000 यूरो तक का अनुदान प्रदान करने के लिए सहमत हुआ है,” बयान में यह भी कहा गया है कि यह आईआरएसडीसी या भारतीय रेलवे पर कोई वित्तीय दायित्व नहीं डालेगा।

इस मौके पर सुरेश अंगदी, रेल राज्य मंत्री ने कहा “भारत और फ्रांस की रेलवे क्षेत्र में एक मजबूत और लंबे समय से समृद्ध भागीदारी है। अतीत में फ्रांसीसी रेलवे (एसएनसीएफ) दिल्ली-चंडीगढ़ खंड और लुधियाना और अंबाला स्टेशनों के विकास के लिए गति उन्नयन अध्ययन आयोजित करने में भारतीय रेलवे के साथ संबद्ध रहा है, ”। साथ ही उन्होंने कहा, “मुझे यकीन है कि यह प्रयास भारत-फ्रांस सहयोग को और मजबूत बनाने में एक लंबा रास्ता तय करेगा और भारतीय रेलवे को अपने स्टेशनों को विश्व स्तर के मानकों पर लाने में मदद करेगा।”

Image tweeted [email protected]

ट्विटर पर श्री जीगलर ने कहा, ” भारत के रेलवे स्टेशनों के आधुनिकीकरण का समर्थन करने के लिए एक इंडो-फ्रेंच समझौते के हस्ताक्षर समारोह के ठीक बाद, लेमोयने ने इस सहयोग के भविष्य के बारे में चर्चा करने के लिए श्री पीयूष गोयल से मुलाकात की!”