संपन्न हुआ लोकसभा चुनाव का पहला चरण

दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र भारत में नई सरकार चुनने के लिए लोगों ने मतदान के रूप में प्रथम आहुति डाली। उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और जम्मू-कश्मीर समेत 20 राज्यों की 91 सीटों पर बृहस्पतिवार को मतदान हुआ| लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) के पहले चरण का मतदान (1st Phase Lok Sabha Election 2019 Voting) शांतिपूर्ण तरीके से संपन्‍न हो गया| 20 राज्यों की 91 लोकसभा सीटों (91 Constituencies) पर कुल 1279 उम्मीदवारों की किस्‍मत ईवीएम में कैद हो गई| इस बात की जानकारी चुनाव आयोग ने दी| चुनाव आयोग के अनुसार लोकसभा चुनाव के पहले चरण में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के कई बड़े नेताओं की प्रतिष्ठा दांव पर है| पहले चरण के मतदान में जिन प्रमुख नेताओं की किस्मत EVM में कैद हो जाएगी उनमें केंद्रीय मंत्री जनरल (सेवानिवृत्त) वीके सिंह, नितिन गडकरी, हंसराज अहीर, किरण रिजीजू, कांग्रेस की रेणुका चौधरी, एआईएमआईएम के असदुद्दीन ओवैसी शामिल हैं| इस चरण (Phase 1 Voting) में रालोद के अजित सिंह का मुकाबला उत्तर प्रदेश में मुजफ्फरनगर सीट पर BJP के संजीव बालियान से है, जबकि उनके बेटे जयंत चौधरी बागपत सीट पर केंद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह को चुनौती दे रहे हैं| लोजपा प्रमुख और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के सांसद पुत्र चिराग पासवान बिहार में जमुई सीट से उम्मीदवार हैं|

कहां पर कितना हुआ मतदान-

How_much_is_voting

घाटी में जमकर हुआ मतदान-

आतंकवाद प्रभावित बारामूला लोकसभा सीट पर बुलेट पर बैलेट भारी पड़ा। लोगों ने लोकतंत्र पर विश्वास जताते हुए जमकर वोट डाले। हालांकि हाजिन और सोपोर में कम मतदान हुआ। बाकी इलाकों में महिलाओं, युवाओं और बुजुर्गों में वोट को लेकर काफी उत्साह देखा गया। जम्मू में भी लोगों ने बढ़ चढ़कर मतदान में हिस्सा लिया। बारामूला में 35.01 और जम्मू में 72.16 फीसदी वोट पड़े। पिछली बार यह 69.17 फीसदी था।

उत्तरप्रदेश के कई सीटों पर बरसें वोट-

एक ऐसा राज्य जिसमे सबसे ज्यादा लोकसभा सीट है, और साथ ही इस चुनाव में सबसे ज्यादा वोट भी पड़ रहे हैं| चुनाव आयोग के मुताबिक ये एक शुभ संकेत है कि लोग वोटिंग को लेकर जागरूक हैं| आपको बता दें कि अभी उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी हैं, और इस तरह से वोट पड़ना भाजपा के लिए भी शुभ संकेत हो सकता है|

Voting_In_U_P

चुनाव आयोग ने कहा, लोकसभा चुनाव का पहला चरण शांतिपूर्ण तरीके से हुआ संपन्‍न| 1.7 लाख पोलिंग स्टेशन पर हुआ मतदान| पहले चरण में 1239 उम्मीदवार मैदान में थे| सुबह सात बजे शुरू हुआ था मतदान| महिलाओं ने भी बड़ी संख्या में हिस्सा लिया| चुनाव को शांतिपूर्वक कराने के लिए चुनाव आयोग अपने सभी अधिकारीयों को धन्यवाद करता है| 18 अप्रैल को दुसरे चरण के लिए मतदान होगा| 97 सीटों पर होगा मतदान| चुनाव आयोग अपने ख़ुशी जाहिर करते हुए कहा कि इस बार अंडमान में 70.6 फीसदी वोट पड़ी है, ये वोट साबित करता है कि लोग वोटिंग को लेकर जागरूक हैं|