ऑटोमोबाइल के कबाड़ से पिता पुत्र ने बनाई पीएम मोदी की अद्भुत मूर्ति

पिछले 7 सालों से लगातार देश में पीएम मोदी की दीवानगी बढ़ती ही जा रही है और देश के हर आदमी पीएम मोदी के लिये कुछ ना कुछ करना चाहता है इसी दीवानगी के चलते एक पिता पुत्र ने कबाड़ की सामग्री से पीएम मोदी की मूर्ति का निर्माण किया है, जिसे बेंगलुरू में जल्द ही लगाया जायेगा।

कबाड़ से पीएम मोदी की मूर्ति

गुंटूर जिले के तेनाली के कलाकार कटुरु वेंकटेश्वर राव और उनके बेटे कटुरु रवि ने अपनी अनोखी प्रतिभा से ये करके दिखाया है।  पिता-पुत्र की इस जोड़ी ने दो महीने पहले 14 फीट ऊंची प्रतिमा पर काम करना शुरू किया था जो अब पूरा हो चुका है। इस बाबत वेंकटेश्वर राव ने बताया कि उन्होंने ये मूर्ति ऑटोमोबाइल के कबाड़ से तैयार की है। इसमे बोल्ट, नट सहित दूसरी सामग्री का प्रयोग हुआ है। वहीं इस मूर्ति का वजह करीब 1 टन के बराबर है। पीएम मोदी की प्रतिमा के लिए, हमने बेहतर लुक के लिए जीआई वायर का भी इस्तेमाल किया। उनके चश्मे, हेयर स्टाइल और दाढ़ी को जीआई वायर जैसी सामग्री से बनाया गया है। इतना ही नही इस काम को करने में करीब 10 सदस्यों की एक टीम ने 600 घंटे काम किया जिसके बाद ये सपना साकार हो पाया है। वैसे आमतौर पर कांस्य की मूर्ति ज्यादा बनाई जाती है। लेकिन ये अद्भुत मूर्ति बनाकर उन्होंने मोदी जी के प्रति अपनी दीवानगी ही बताई है।

मोदी के चाहने वाले ऐसा करते रहते हैं

इससे पहले भी कई लोगों ने पीएम मोदी की एक से बढ़कर एक तस्वीरें देखने को मिली है। मसलन जैसे किसानों ने अपने खेत में गेहूँ के दानो से पीएम मोदी की खूबसूरत तस्वीर बनाई थी तो साऊथ के एक दिव्यांग कलाकार ने तो कैनवास में ऐसी पीएम मोदी की तस्वीर बनाई थी कि उसकी तारीफ किये बिना पीएम मोदी भी अपने आपको नही रोक पाये थे। ऐसे तमाम लोग हैं जिन्होंने पीएम की तस्वीर उन्हें भेट की है, लेकिन जिस तरह की ये मूर्ति बनाई गई है वो अपने आप में बिलकुल ही अलग है और जब ये बेंगलुरू में लग जायेगी तो इसका औरा चारो तरफ फैलता हुआ दिखाई देगा।

देश हो या दुनिया हर तरफ पीएम मोदी के चाहने वालों की गिनती बढ़ रही है और ऐसा सिर्फ इसीलिये हो रहा है क्योंकि वो सबको साथ में लेकर चल रहे हैं और सबका विश्वास उनपर बढ़ रहा है।

 

Leave a Reply