पिछले 10 दिन में दिखी वैक्सीनेशन की तेज रफ्तार 5.8 करोड़ से ज्यादा लोगों ने लगवाया टीका

देश में एक तरफ तेजी के साथ टीकाकरण का दौर चल रहा है। देशवासियों में वैक्शीनेशन अभियान को लेकर जोश भी दिख रहा है। खासकर युवाओं में तो दूसरी तरफ कोरोना युद्ध भी इसी कोशिश में है कि देश में कोई भी वैक्शीनेशन से छूट ना जाये तो ऐसे में एक वर्ग देश में है जो ऑकड़े बिना देखे सरकार से सवाल कर रहा है जुलाई आ गई है पर वैक्सीन कहां है।

देश में 33 करोड़ से ज्यादा लोगों को लगी वैक्सीन

स्वास्थ मंत्री हर्षवर्धन वैसे बोलते कम हैं लेकिन जब बोलते हैं तो बिलकुल सटीक, ये आज उन्होंने एक बार फिर साबित कर दिया है। जिस तरह से देश में वैक्सीनेशन अभियान को कमजोर करने के लिये देशवासियों के मन में एक संदेह पैदा कर रहे हैं कि देश में वैक्सीन नही है उन्हे सटीक जवाब मिला है। स्वास्थमंत्री ने आंकड़ो के साथ अपनी बात रखते हुए बताया कि देश में 33 करोड़ से ज्यादा लोगों को वैक्सीनेशन हो चुका है तो पिछले 10दिनो में 5.8 करोड़ से ज्यादा लोगों ने टीका लगवाया है, ठीक इसी तरह से युवाओं की बात करें तो करीब 12 करोड़ से ज्यादा युवाओं का टीकाकरण हो चुका है। जो ये बताता है कि देश तेजी के साथ इस अभियान में आगे बढ़ रहा है। लेकिन कुछ लोग सिर्फ देश में नकरात्मकता फैलाने के लिये झूठी खबरे उड़ा रहे हैं और ऐसे लोगो के लिये अभी झूठ दूर करने वाली वैक्सीन नही आई है। वैसे अगर देश हित में वो कुछ भी सोचते हैं और जरूर झूठ बोलना छोड़ दे तो उन्हे वैक्सीन दिखनी शुरू हो जायेगी।

भ्रम के जाल में ना फंसे

वैसे जब से केंद्र ने अपने हाथो में टीकाकरण की व्यवस्था ली है तब से ही देश में हर राज्य में टीकाकरण का कार्य बहुत बेहतर तरीके से होता हुआ दिख रहा है। खुद राज्य इस बात को मान रहे हैं कि उनके पास टीके हैं इससे ये साफ पता चलता है कि पहले राज्यों के द्वारा की गई कोताही के चलते ही  वैक्सीनेशन के अभियात में पैनिक बना था। जो अब दूर हो गया है और यही वजह है कि टीका केंद्र में लोगों को दिक्कत नही हो रही है। तो भ्रम फैलाने वालों की अब दाल भी नहीं गल रही है। इसलिये ये सिर्फ ऐसे बयान दे रहे हैं जो लोगो में भ्रम पैदा हो लेकिन इसको लेकर हमे सचेत रहना होगा।

फिलहाल जिस तरह से सरकार ने ऐलान किया है कि जल्द ही टीकाकरण के लिये 3 वैक्सीन भी आ जायेगी उससे ये साफ लगता है कि दिसंबर तक जो टारगेट केंद्र सरकार ने रखा है वो पूरा हो जायेगा और इसके लिये सरकार के साथ साथ हम सब की भी जिम्मेदारी बनती है कि हम भी सरकार का साथ दें और वैक्सीनेशन अभियान को सफल बनाये।