FACT CHECK – CAA के खिलाफ मार्च में तिरंगे में अशोक चक्र की जगह इस्लामी कलमा का फोटो असली है

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

फेसबुक यूज़र Rajat Ranjan ने 30 जनवरी, 2020 को सड़क पर मार्च निकालती एक भीड़ की तस्वीर शेयर की। इस तस्वीर के जरिए, रजत ने दावा किया कि नागरिकता संशोधन कानून, 2019 (CAA) के खिलाफ हैदराबाद में हुए प्रदर्शन के दौरान भारतीय ध्वज में अशोक चक्र की जगह इस्लामी कलमा ‘ला इलाहा इल्लल्लाह’ लिखा है, जिसका अर्थ है ‘अल्लाह तआला के अलावा कोई पूजा के योग्य नहीं है।’

इस दावे की सच्चाई क्या है, आइयें जानते है :

यह तस्वीर असली है और तेलंगाना के हैदराबाद की ही है। हैदराबाद के, Lower Tank Bund इलाके के पास CAA और NRC के खिलाफ प्रदर्शन के लिए बड़ी संख्या में लोग जुटे थे। प्रदर्शनकारियों के पास मौजूद एक तिरंगे में अशोक चक्र की जगह इस्लामी कलमा ‘ला इलाहा इल्लल्लाह’ लिखा था।

कैसे की पड़ताल?

गूगल पर ‘Ashok Chakra Indian flag CAA’ कीवर्ड्स सर्च करने पर हमें पत्रकार और राजनीतिक विशेषज्ञ आनंद रंगनाथन का 4 जनवरी, 2020 को किया एक ट्वीट मिला।जो इस ट्वीट में वही तस्वीर थी जिसे अब शेयर किया गया है। तस्वीर के साथ ट्वीट में जो लिखा था उसका अनुवाद कुछ इस तरह है, ‘आज, हैदराबाद में हुए CAA विरोधी प्रदर्शन में, भारतीय तिरंगे पर अशोक चक्र की जगह इस्लामी शहादा लिखा था।’

रंगनाथन ने 4 जनवरी 2020 को The New Indian Express-Hyderabad के वेरिफाइड हैंडल से किए गए ट्वीट को कोट किया था। द न्यू इंडियन एक्सप्रेस के ट्वीट में इसी तस्वीर को खींचने के लिए फोटोजर्नलिस्ट विनय मडापू को क्रेडिया दिया गया था।

अरबी भाषा की जानकारी रखने वाले हमारे एक सहयोगी ने भी इस बात की पुष्टि की कि तिरंगे पर ‘ला इलाहा इल्लल्लाह’ लिखा है।

निष्कर्ष

फैक्ट चेक में पाया गया कि अशोक चक्र की जगह इस्लामी कलमा लिखे तिरंगे के साथ CAA के खिलाफ प्रदर्शन करती भीड़ की तस्वीर असली है और हैदराबाद की है।

Originally Published at TimesOfIndia

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •