आपदा के वक्त ओडिशा के सीएम ने पेश की सियासत की नई मिसाल

एक तरफ कोरोना है जो हर रोज देश में कोहराम मचा रहा है तो दूसरी तरफ वो लोग है जो आपदा से निपटने के लिये कोई काम नही कर रहे है बल्कि सिर्फ सरकार पर टीका टिप्पणी में लगे हुए है। लेकिन इन सब के बीच एक राजनेता भी है जो देश हित के लिए दूसरे राज्य को मदद देने में जुट गया है बिना किसी सियासत के बिना राज्य में किसकी पार्टी ये देखे बिना वो सिर्फ मदद कर रहा है और उनका नाम है ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक ।

देश के कोने कोने में पहुंचा रहे ऑक्सीजन

जहां इस वक्त कोरोना आपदा के बीच कुछ सियासी नेता अपनी नाकामी को छुपाने के लिये आरोप लगाने में वयस्त है तो दूसरी तरफ उडिशा के सीएम अपनी एक अलग मिसाल पेश कर रहे है। हमेशा शांत रहने वाले नवीन पटनायक इस बार भी बिना किसी हो हल्ला के देश के लोगों की सांसे बचाने में लगे है। और वो ये भी नहीं देख रहे है कि कौन से राज्य में किसकी सरकार है। वो सिर्फ राज धर्म का पालन कर रहे है। जिसके चलते अभी उन्होने देश के कई राज्यों को ऑक्सीजन भेजी है।  ऑकड़ो पर नजर डाले तो अभी तक करीब 510 मीट्रिक टन ऑक्सीजन वो पहुंचा चुके है। इससे पहले उन्होने इस बाबत पीएम मोदी से बात की और कहा कि उनका राज्य बाकी के अन्य राज्यों में जहां ऑक्सीजन की कमी है वहां ऑक्सीजन सप्लाई कर सकता है। इसके बाद नवीन पटनायक ने दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और तेलंगाना के मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव से बातचीत की और कहा कि ओडिशा अब इन राज्यों को ऑक्सीजन की सप्लाई कर यहां की आपूर्ति पूरा करेगा। इसे लेकर ओडिशा पुलिस ने एक गलियारा बनाया है, जिससे ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली गाड़ियों को किसी दिक्कत का सामना न करना पड़े।

केंद्र की सियासत से रहते है दूर

नवीन पटनायक उड़ीसा में पिछले कई वर्षों से जीतते आ रहे हैं, लेकिन उन्होंने कभी भी क्षेत्रीय दलों के नेतृत्व के बारे में नहीं सोच। हमेशा शांति के साथ अपने राज्य के विकास में वो काम करते रहते है। उनका दिल्ली आना भी बहुत कम होता है लेकिन दिल्ली के साथ मिलकर राज्य के लिये काम करने के लिये वो हमेशा पीएम से बात करते रहते है। हालांकि कुछ ऐसे भी राजनेता है जो केवल एक दो बार जीतकर ही खुद को प्रधानमंत्री के तौर पर देखने लगते हैं और उन्हें लगता है कि वह भारत के सभी क्षेत्रीय दलों का नेतृत्व कर सकते हैं। प्रधानमंत्री मोदी के साथ ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक का इस तरह से काम करना देश के लिए अच्छा संदेश है जो ये बताता है कि आपदा के वक्त देश से बड़ा कोई नहीं।

वैसे ओडिशा एक ऐसा राज्य है जहां समुद्रीय तूफान सबसे ज्यादा आता है और इससे प्रदेश को कई बार बड़े नुकसान भी उठाने पड़े है लेकिन उस वक्त केंद्र सरकार के साथ देश का हर नागरिक ओडिशा की मदद के लिये खड़ा होता है जो ये बताता है कि भारत में कितनी बोली हो या धर्म या फिर राज्य पर सब की ताकत है एकता और एक दूसरे का साथ ..