याद है ना 22 मार्च जब पिछली साल जनता कर्फ्यू के दौरान भारत ने दिखाई थी दुनिया को एकता की ताकत

यूं तो इतिहास में 22 मार्च की तारीख पर कई खास घटनाएं दर्ज हैं, लेकिन एक साल पहले की आज ही के दिन देश में पहली बार जनता कर्फ्यू का ऐलान करके एक नया इतिहास रचा गया था जो इस तारीख को हमेशा न भूलने वाली तरीख बनाती है। पीएम नरेन्द्र मोदी ने कोरोना के प्रकोप को देखते हुए 22 मार्च 2020 को जनता कर्फ्यू का ऐलान किया था। उन्होंने देशवासियों से सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक घरों में कैद रहने को कहा था। साथ ही शाम 5 बजे ताली, थाली, शंख आदि बजाने को की अपील की थी। प्रधानमंत्री के आह्वान पर देशवासियों ने शाम पांच बजते ही काफी उत्साह दिखाना शुरू किया। इसकी कुछ तस्वीरें और वीडियो काफी वायरल हुईं। आज जब एक साल पूरा हो गया तो उन्ही कुछ तस्वीरों और विडियों के जरिये हम आपकी यादों को ताजा करते है।

बड़े-बड़े परातों को बजाती महिला का विडियो

शायद आपके दिल और दिमाग से अभी भी ये विडियो गायब नही हुआ होगा आज भी जब आप जनता कर्फ्यू की बात करते होगे तो दादी का बड़ी बड़ी थाल को बजाने का विडियो जरूर याद आ जाता होगा। क्योकि ये उस वक्त लोगों को खूब भाया था।

खूब वायरल हुआ यह वीडियो

दिल्ली की एक महिला का थाली बजाने का ये अंदाज देस के लोगों को खूब भाया महिला का इस अंदाज को लोगों ने हाथोहाथ लिया और ये विडियो देखते केखते खूब वायरल हुआ जो आज भी हमारे जेहन में कही न कही है।

यादों में वो पल आज भी ताजा

जनता कर्फ्यू के बाद जनता द्वारा कोरोना से मुकाबला करने वाले लोगों के सम्मान में थाली बजाकर अभिवादन का वो पल शायद ही कोई भूल पाया होगा क्योकि समूचा देश उस दिन कोरोना को हराने और एक जुट नजर आ रहा था हर तरफ से बस एक जुटता का माहौल देखा जा रहा था।

वैसे भारत की जनता ने विश्व को जनता कर्फ्यू के जरिये ये दिखा दिया था कि कठोर हालात में हर भारतीय दूसरे भारतीय के साथ खड़ा है। शायद इसी ताकत का नतीजा है कि कोरोना रूपी संकट से भारत ने सफलता के साथ मुकाबला किया और एक हद तक कोरोना को देश पर हावी नही होने दिया।