दिव्यांग मतदाताओं के लिए विशेष व्यवस्था, घर से बूथ तक होगा इंतजाम

voters

लोकसभा चुनाव 2019 में जामताड़ा जिला प्रशासन दिव्यांग मतदाताओं के लिए खास इंतज़ाम कर रही है| लोकसभा चुनाव 2019 में चुनाव आयोग के नई मुहीम के साथ आगे आया है| जी हाँ आपको बता दें कि झारखण्ड के जामताड़ा जिला प्रशासन दिव्यांग मतदाताओं के लिए खास इंतजाम कर रही है| दिव्यांग युवा-युवतियों के लिए चुनाव आयोग ने नए इंतज़ाम किए हैं जिसके वजह से वो इस चुनाव में अपना मतदान कर पाएंगे|

बताया जा रहा है कि दिव्यांग मतदाताओं को मतदान करने के लिए किसी तरह की परेशानी नहीं हो इसके लिए विशेष व्यवस्था की जा रही है| जिसमें विशेष मतपत्र से लेकर बूथ तक जाने की व्यवस्था की जा रही है|

Tamil_nadu_election

लोकसभा चुनाव में आयोग का कहना है कि कोई भी मतदाता छूटना नही चाहिए| ऐसे में प्रशासन द्वारा मतदाताओं को मतदान करने के लिए व्यवस्था की जा रही है| जिसमें इस बार दिव्यांग मतदाताओं का भी ध्यान रहा जा रहा है| दिव्यांग मतदाता परेशानी की वजह से बूथ तक नहीं पहुच पाते हैं| ग्रामीण इलाकों में ऐसा अबसे अधिक होता है| लेकिन प्रशासन ने इस बार उनके लिए खास व्यवस्था की है|

आपको बता दें कि, प्रशासन के द्वारा मतदान केंद्र तक पहुंचने के लिए वहां और व्हील चेयर की व्यवस्था कर रही है| वही मतदाताओं के लिए ब्रेन लिपि वाले मतपत्र छपवाएं जा रहे हैं | साथ ही उन्हें जागरुक करने का काम भी किया जा रहा है|

दिव्यांगजन प्रजातंत्र के इस महापर्व में भाग ले सके इसके लिए नई व्यवस्था है| इसके पूर्व साधन के अभाव में दिव्यांगजन अपना मतदान नही कर पाते थे, लेकिन चुनाव आयोग के निर्देश के बाद जामताड़ा के रोड क्रॉस के सभागार में मतदान के लिए दिव्यांग मतदान के लिए दिव्यांग मतदान जागरूकता अभियान का भी आयोजन किया गया और दिव्यांग युवक युवतियों से दीप प्रज्वलित कराकर मतदान के प्रति जागरूक किया गया|

इस आयोजन के बाद दिव्यांगजनों में मतदान के प्रति काफ़ी उत्सुकता देखने को मिल रहा है| दिव्यांग युवक-युवतियों ने बताया की इस बार हमारे लिए चुनाव आयोग ने बहुत ही अच्छी व्यवस्था की है| हमें मतदान केंद्र तक पहुचने में काफ़ी परेशानियों का सामना करना पड़ता था, जिसके वजह से कई लोग नही जा पाते थे| आपको बता दे कि मतदान केंद्र तक पहुचने के लिए गाड़ी की व्यवस्था और व्हील चेयर की व्यवस्था दिव्यांगजनों के लिये बहुत ही अच्छी बात है| दिव्यांगजनों ने बताया की इस बात से वो बहुत खुश हैं की सरकार और चुनाव आयोग उनके बारे में सोचा रहा है और साथ ही वो अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने के लिए काफ़ी उत्सुक है|