डिजिटल होता इंडिया – गावों और कस्बों में ऑनलाइन बिल पेमेंट में चार गुणा वृद्धि

सुचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा शुरू किये गए कॉमन सर्विस सेंटर्स (CSC) के आंकड़ों के मुताबिक 2014 से 2019 के बीच गावों और कस्बों में नागरिको द्वारा ऑनलाइन बिल पेमेंट्स में चार गुणा वृद्धि दर्ज की गयी है| सबसे ज्यादा संख्या में बिजली के बिल का भुगतान किया गया है| साल 2014-15 में करीब 25 लाख लेन-देन दर्ज हुआ था जो साल 2019 में बढ़कर एक करोड़ से भी अधिक हो गया है|

transaction

कॉमन सर्विस सेंटर्स (CSC), सुचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा गावों और कस्बों को इन्टरनेट से जोड़ने की कोशिश के तहत शुरू किया गया था| देश के करीब ढाई लाख से भी ज्यादा ग्राम पंचायतों में लोगों के लिए सरकारी सुविधाओं और अन्य बिज़नस सुविधाओं को ऑनलाइन उपलब्ध करवाना इसका लक्ष्य था|

लोग CSC सेंटर्स का उपयोग बिजली बिल भुगतान, मोबाइल रिचार्ज, बीमा प्रीमियम का भुगतान, रेलवे टिकट बुकिंग, तथा PAN और पासपोर्ट बनवाने के शुल्क के पेमेंट के लिए किया जा रहा है| रोचक तथ्य ये है कि पहले सबसे ज्यादा मोबाइल रिचार्ज हुआ करता था लेकिन पीछे दो सालों में बिजली बिल के भुगतान ने मोबाइल रिचार्ज को पीछे छोड़ दिया है|

digital-paymentElectricity_bills
सांकेतिक तस्वीर

2014-19 के दौरान बिजली बिल भुगतान के लिए करीब 2000 करोड़ और बीमा प्रीमियम रिन्यूअल के लिए करीब 1600 करोड़ रूपये का लेन देन हुआ|