दिल्ली विधानसभा चुनाव : कल किसकी बनेगी सरकार?

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

PC - Google

दिल्ली की सभी 70 सीटों के लिए 8 फरवरी को वोट डाले गए और उम्मीदवारों के भविष्य का फैसला ईवीएम में कैद हो गया है। दिल्ली विधानसभा चुनाव में मतदान शनिवार को संपन्न होने के बाद अब सभी को इसके परिणाम का इंतज़ार है। दिल्ली में नई सरकार को लेकर अगले 24 घंटे में लोगों का इंतजार खत्म हो जाएगा। हर कोई ये जानने के लिए बेताब है कि आखिर इस बार देश की राजधानी पर किसका कब्जा होगा? मंगलवार को वोटों की गिनती के साथ ही स्पष्ट हो जाएगा कि आखिर दिल्ली की जनता ने इस बार किस पर अपना भरोसा जताया है। हालांकि अलग-अलग राजनीतिक पार्टियां और उनके समर्थक चुनाव नतीजों से पहले ही अपनी जीत का दावा कर रहे हैं। बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने चुनावों नतीजों से एक दिन पहले यानी सोमवार को ट्विटर पर बीजेपी की जीत का दावा किया है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘कल बीजेपी दिल्ली में सरकार बना रही हैं। जय श्री राम’।

दिल्ली विधानसभा चुनाव के मतों की गिनती कल होगी। दिल्लीा के मुख्यग चुनाव अधिकारी रणबीर सिंह ने बताया है कि वोटों की गिनती कल सुबह आठ बजे शुरू होगी। मतगणना की कड़ी में सबसे पहले पोस्टल बैलेट की गिनती की जाएगी। मतगणना के लिए 21 केन्द्रक बनाए गए हैं। अर्धसैनिक बल और दिल्ली पुलिस मतगणना केन्द्रों में इलेक्टॉनिक वोटिंग मशीनों को बहुस्तरीय सुरक्षा उपलब्ध करा रहे हैं।

दिल्ली विधानसभा के 70 विधानसभा सीटों के लिए इस बार दिल्ली के सियासी जंग में मुख्य मुकाबला सत्ताधारी आम आदमी पार्टी, बीजेपी और कांग्रेस के बीच। वहीं, वोटिंग के बाद सामने आए लगभग सभी एग्जिट पोल में आम आदमी पार्टी की जीत का दावा किया गया है। हालांकि, फाइनल नतीजे क्या होंगे इस पर सभी की निगाहें टिकी हुई हैं। और इस बीच सभी दल अपने –अपने जीत के दावे कर रही है भारतीय जनता पार्टी के दिल्ली के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने एग्जिट पोल को भरोसा नहीं करने की बात कहते हुए कहा कि बीजेपी दिल्ली में 48 सीटें जीत कर सरकार बनाने जा रही है।

लेकिन फिलहाल दिल्ली विधानसभा चुनाव को लेकर जारी सियासी घमासान के बीच सभी को इंतजार 11 फरवरी का है, जब मतों की गिनती शुरू होगी। इसके बाद ही स्पष्ट होगा कि आखिर की दिल्ली की आवाम का असली फैसला क्या है? बता दें कि पिछले विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी ने शानदार प्रदर्शन किया था। उस समय AAP को 70 में से 67 सीटों पर कामयाबी मिली थी। दूसरे नंबर पर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) रही, जिनके खाते में 3 विधानसभा सीटें आई थीं।

PC – Google


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •