विपक्ष पर प्रहार के साथ सरकार के कामों को गिनाकर, पूरे जोश में दिखे पीएम मोदी

कल लोकसभा में गर्मी थी। लेकिन आज राज्य सभा में शुरुआत में थोड़ी नरमी दिखी। सुबह का माहौल था, इसलिए चुटकीबाजी भी हुई। अंदाज सोमवार वाला ही था, बस आज थोड़ा तेवर अलग था अपने चुटीले अंदाज में पीएम मोदी ने साफ़ संकेत दे दिया कि आने वाले घंटे विपक्षियों के लिए कठिन होने वाले थे आज की स्पीच में चोट थी, तो विकास की तस्वीर भी दिखी।

विपक्ष की चुटकी लेते हुए नये भारत की तस्वीर दिखाई

शुरुआत प्रधानमंत्री ने आनंद शर्मा की तारीफ़ करते हुए थोड़ा चुहलबाजी से की, उन्होंने कहा कांग्रेस की तरफ़ से जो टाइम दिया गया था, उसमें मल्लिकार्जुन खड़गे ने ही अधिकतर समय ले लिया था। इसलिए कल आनंद शर्मा थोड़ा नाराज़ हो गए थे। विपक्ष के मजे लेने के बाद कोरोना पर जो लोग बीजेपी सरकार का खुलेआम मखौल उड़ा रहे थे, उन्हें खुलकर सन्देश दे दिया कि हमारे जैसा कोई नहीं है। जो हमने कर दिखाया है, वो कोई नहीं कर सकता। आज हम डंके की चोट पर कह सकते हैं कि कोरोना काल को जिस तरीके से हमने हैंडल किया वैसा किसी ने नहीं किया। कोरोना के आघात के बाद लड़खड़ाया भारत जैसे दोबारा खड़ा हुआ है। इसके बाद किसानों को पैगाम दिया युवाओं को देश का अभिमान बताया गरीबों को लखपति बनाया भारत का सीना किस कदर चौड़ा हुआ, उसकी गाथा बताई।

बेरोजगारी मंहगाई के मुद्दे पर विपक्ष पर किया प्रहार

पीएम मोदी ने लोकसभा हो या फिर लोग सभा हर जगह बेरोजगारी और मंहगाई को लेकर सदन में सरकार पर हुए हमले पर करारा प्रहर किया।  पीएम मोदी ने बताया कि कैसे देश में स्टार्टअप के जरिये रोजगार का नया द्वारा खुला तो ईपीएफओ में रिकार्ड लोगों के जुड़ने को भी उन्होंने इसका सबूत बताया।  इसी के साथ मंहगाई के मुद्दे पर उन्होंने बोला कि वो मंहगाई का ठीकरा कोरोना पर नही फोड़ रहे हैं जैसे पहले कि सरकार करती आई है, लेकिन महंगाई को कम करने के लिये अपने कामों को भी गिनाया।

भूत पर भी चोट हुई, वर्तमान पर भी घेरा और भविष्य की सियासी संभावनाओं को टटोलते हुए अपनी तरफ से चित करने की कोशिश भी की बखूबी की गई। अब तीर निशाने पर लगता है या नहीं ये तो वक़्त बताएगा पर अब वो कमान से निकल चुका है अब देखना होगा कि इसका असर कितना ज्यादा होता है।