कोरोना: UN ने याद किए बुद्ध, कहा- दूसरों की सेवा का संदेश आज दुनिया के लिए ज़रूरी

संयुक्त राष्ट्र. संयुक्त राष्ट्र (UN) प्रमुख एंतोनियो गुतारेस (Antonio guterres) ने वेसाक दिवस (बुद्ध पूर्णिमा) के लिए अपने संदेश में कहा कि जब मानवता कोविड-19 वैश्विक महामारी से जूझ रही है, ऐसे में एकजुटता एवं दूसरों की सेवा करने का भगवान बुद्ध (Lord Buddha) का संदेश बहुत मायने रखता है. उन्होंने कहा कि देश एक-दूसरे के साथ मिलकर काम करके इस घातक वायरस को फैलने से रोक सकते हैं और इससे उबर सकते हैं.

‘वेसाक दिवस’ भगवान बुद्ध के जन्म, उन्हें बुद्धत्व की प्राप्ति और उनके निर्वाण की स्मृति में मनाया जाता है. गुतारेस ने इस बार सात मई को मनाए जाने वाले वेसाक दिवस के लिए अपने संदेश में कहा, ‘जब हम भगवान बुद्ध के जन्म, उन्हें बुद्धत्व की प्राप्ति और उनके निर्वाण को याद कर रहे हैं, ऐसे में हम उनकी शिक्षाओं से प्रेरणा ले सकते हैं. मानवता कोविड-19 वैश्विक महामारी से पीड़ित है, ऐसे में हमें एक सूत्र याद आ रहा है: ‘क्योंकि आप सभी मनुष्य बीमार है, इसलिए मैं भी बीमार हूं.’

आज दुनिया को बुद्ध से सीखने की ज़रूरत
गुतारेस ने कहा कि भगवान बुद्ध का दिया एकजुटता एवं अन्य लोगों की सेवा करने का संदेश पहले से कहीं अधिक महत्व रखता है. गुतारेस ने कहा, ‘हम केवल मिलकर ही कोरोना वायरस को रोक सकते हैं और उससे उबर सकते हैं.’ दुनियाभर में लाखों बौद्ध अनुयायी वेसाक दिवस मनाएंगे, ऐसे में गुतारेस ने सभी देशों से अपील की है कि वे करुणा एवं एकजुटता के साथ दूसरों के लिए काम करके और ‘एक शांतिपूर्ण दुनिया के निर्माण की प्रतिबद्धता दोहरा कर’ भगवान बुद्ध की शिक्षाओं पर अमल करें.

अमेरिका समेत 4 यूरोपीय देशों में हुईं 1 लाख 80 हज़ार मौतें

पूरी दुनिया में कोरोना वायरस के कारण अब तक संक्रमण के 36,62,691 मामलों की पुष्टि हो चुकी है, जबति मौतों का आंकड़ा 2,57,239 तक पहुंच चुका है. जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी द्वारा जारी किए गए 6 मई 2020 सवेरे 9 बजे तक के आंकड़ों के अनुसार सबसे अधिक मौतों के मामले में अमरीका और यूरोप सबसे आगे हैं. अकेले अमरीका में कोरोना संक्रमितों की संख्या 12,04,351 पहुंच गई है जबकि यहां 71,064 लोगों की मौत इस वायरस के कारण हुई हैं. यूरोप की बात की जाए तो स्पेन, इटली, फ्रांस और यूके में कोरोना के कारण अब तक मरने वालों का कुल आंकड़ा 1,09,996 पहुंच चुका है. इस तरह अमरीका और इन चार यूरोपीय देशों में कोरोना के कारण कुल 1.81 लाख से अधिक मौतें हुई हैं जो पूरी दुनिया में हुई मौतों का सत्तर फीसदी से अधिक है.

Originally published: News18