कोरोना से बचाव को देश को रात 8 बजे संबोधित करेंगे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

प्रधानमंत्री कार्यालय ने यह जानकारी दी है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार रात आठ बजे राष्ट्र को संबोधित करेंगे। देश मे बढ़ रहे कोरोना संकट को ध्यान मे रखते हुए यह फैसला लिया जा रहा है | इस दौरान वह कोरोना वायरस से उत्पन्न हालात के साथ ही इस संक्रमण की रोकथाम के लिए किए गए उपायों के बारे में बताएंगे। 

पीएमओ की ओर से जारी ट्वीट के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 19 मार्च 2020 को रात आठ बजे राष्ट्र को संबोधित करेंगे। इस दौरान वह कोविद-19 से जुड़े मुद्दों और उस पर काबू पाने के लिए उठाए गए कदमों के बारे में बताएंगे। एक अन्य ट्वीट में पीएमओ ने बताया कि प्रधानमंत्री ने कोरोना संकट से निपटने के लिए किए जा रहे प्रयासों को लेकर उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक की। इसमें भारत की तैयारियों को और पुख्ता करने के तौर-तरीकों पर चर्चा हुई।

दिल्ली में संक्रमण के अब तक 10 मामले सामने आए हैं, जिनमें एक विदेशी शामिल हैं जबकि उत्तर प्रदेश में एक विदेशी समेत 16 मामले दर्ज किए गए हैं। महाराष्ट्र में तीन विदेशियों समेत 42 मामले सामने आए हैं जबकि केरल में दो विदेशी नागरिकों समेत 27 मामले दर्ज किए गए हैं। कर्नाटक में कोरोना वायरस के 11 मरीज हैं। लद्दाख में संक्रमण के मामले बढ़कर आठ हो गए हैं और जम्मू-कश्मीर में इसकी संख्या बढ़कर तीन हो गई है। तेलंगाना में दो विदेशियों समेत छ: मामले सामने आए हैं। राजस्थान में दो विदेशियों समेत चार लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, ओडिशा, उत्तराखंड और पंजाब में एक-एक मामला सामने आया है। हरियाणा में 14 विदेशियों समेत 17 लोग संक्रमित हैं। इसके अलावा पश्चिम बंगाल में भी एक मामला सामने आया है। 

दुनियाभर में दो लाख से अधिक मामले 

कोरोना के कहर का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि दुनियाभर में इस खतरनाक वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 2 लाख से अधिक हो गई है। दुनिया भर में कोरोना वायरस के 2 लाख 3 हजार 6 सौ 12 मामले सामने आ चुके हैं। 

यूरोप में मौतों की संख्या एशिया से अधिक

यूरोप में कोरोना वायरस संक्रमण से मौतों की संख्या एशिया में मरने वाले लोगों की संख्या से अधिक हो गई है। एएफपी आंकड़े के अनुसार यूरोप में कोरोना वायरस से 3,421 लोगों की मौत हुई है जबकि एशिया में 3,384 मौत हुई है। इस महामारी का शुरूआती केन्द्र बिंदु चीन था। दुनियाभर में इससे दो लाख से अधिक लोग संक्रमित हुए और 7,873 लोगों की मौत हुई। यूरोप में इटली में सबसे अधिक 2,503 लोगों की मौत हुई है।


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •