लॉक डाउन को लेकर बने सजग, तभी कोरोना से होगी हिफाजत

कोरोना वायरस के कहर के चलते भारत के 22 राज्य के 82 जिलों को पूरी तरह 31 मार्च तक बंद कर दिया गया है मतलब पूरी तरह से लॉकडाउन लेकिन इसके बावजूद भी कुछ लोग ऐसे है, कि वो इस नियम को तोड़ने में लगे हुए है।

22 राज्य के 82 जिलों को किया गया लॉक डाउन

दिल्ली, महाराष्ट्र और यूपी सहित राजस्थान, मध्यप्रदेश के कुछ शहर जहां कोरोना के मामले सामने आये है उन शहरो को लॉक डाउन कर दिया गया है। लेकिन इसके बाद दुर्भाग्यपूर्ण बात ये निकल कर सामने आ रही है कि कुछ लोग इस नियम को ताक में रखकर सड़को पर निकल रहे है जबकि खुद पीएम ने एक बार फिर से ट्वीट करके इन लोगों से अपील की है कि वो लॉकडाउऩ का समर्थन करे और कोरोना वायरस को लेकर गंभीर हो जिससे इस रोग से निपटा जा सके। हालाकि कुछ लोग इसे मजाक समझ रहे है जबकि अभिनेता हो या फिर करोबारी सब लोग इस बीमारी को लेकर सावधान करने में जुटे है। इस लॉकडाउन के बावजूद लोगों ने अपने घर से बाहर निकलना जारी रखा है, लेकिन शायद ऐसे लोगों को पता नहीं है, कि लॉकडाउन तोड़ने यानी इस नियम का उल्लंघन करने पर सख्त कानूनी कार्रवाई की जा सकती है। हालाकि दूध की दुकान, राशन की दुकान और इमरजेंसी सेवाओं के लिए आप घर से निकल सकते है लेकिन कुछ लोग इसी का फायदा उठाकर सिर्फ मजे के लिये घर से निकल रहे है, जो अपने साथ-साथ समाज के लिए भी खतरा बन रहे है। 

लोगों को भी होना होगा जागरूक

दोस्तों फिलहाल कोरोना से निपटने का बस एक तरीका यही है, कि समाजिक दूरिया बनाई जाये जिससे कोरोना एक दूसरे में नही फैले और इसके लिए हमे घर में ही बने रहना होगा और सरकार के नियम को मानना होगा जिससे कोरोना का सफाया देश से किया जा सके। ऐसे में उन लोगों के लिये ताकीद है, कि वो वक्त की नजाकत को समझे और मजे लेने के लिये या सिर्फ कोरोना को लेकर उठाये जा रहे, कदम को देखने बाहर सड़को पर न निकले। और हां एक बात का और ध्यान रखे कि न अफवाह फैलाये और न ही अफवाह फैलाने वालो की बात सुने.  देश में कोराना का संकट जरूर है लेकिन सरकार इससे निपटने के लिये जो कदम उठा रही उसका ही असर है कि देश में कोरोना तेजी से नही फैल रहा है। 

तभी तो विश्व के देश भारत के उठाये जा रहे कदमों को ठीक बताकर देश के पीएम मोदी जी की तारीफ कर रहे है। लेकिन देश के लोगों का सहयोग भी जरूरी है इसलिए इस वक्त सरकार के जरिये बनाई गई गाइडलाइन का पालन करे। खासकर के आने वाले इस हफ्ते में जरूर सावधान रहे क्योकि इस हफ्ते में संक्रमण के फैलने के बहुत अधिक संभावना है जिसे हमे अपनी ताकत से और संकल्प से खत्म करना होगा जिसके लिये सरकार के बताये कर्तव्य को पूरा करना हम सब का कर्तव्य है।