कोरोना के बढ़ रहे प्रकोप के बीच भारत मे अच्छी खबर : 100 मरीज हुए ठीक

जहाँ एक तरफ कोरोना के कारण चारों तरफ खौफ का माहौल देखने को मिल रहा है, वहीं भारत मे एक अच्छी खबर भी है | यहाँ कोरोना से ठीक होने वालों की संख्या मे भी तेजी से बढ़ोतरी देखने को मिल रही है | आंकड़े के अनुसार, देश में अब तक इस बीमारी के 1,071 मरीज हैं जबकि 29 लोगों की मौत हुई है।

केरल में 19 मरीज हुए ठीक

हेल्थ मिनिस्टरी के जारी आंकड़ों के अनुसार, मरीजों की कुल संख्या में 49 विदेशी भी शामिल हैं। केरल में सबसे ज्यादा 194 कोरोना के मामले सामने आए हैं। यहां 19 मरीज ठीक होकर घर जा चुके हैं। राज्य में कोरोना के कारण पूरी तरह से लॉकडाउन है।

महाराष्ट्र में अब तक 25 मरीजों को छुट्टी

महाराष्ट्र ऐसा दूसरा राज्य है जहां कोरोना के सबसे ज्यादा मामले पाए गए हैं। यहां अब तक 193 लोग कोरोना पीड़ित हैं। पर खुशी की बात यह भी है कि यहां से ही सबसे ज्यादा 25 मरीज ठीक भी हुए हैं।

हरियाणा में भी लोग हो रहे हैं ठीक

हरियाणा में कोरोना वायरस के 33 केस आए हैं। यहां 17 लोग ठीक हुए हैं। राज्य में इस घातक बीमारी से किसी की मौत की कोई खबर नहीं है।

यूपी में 11 मरीज हुए ठीक

उत्तर प्रदेश में कोरोना के 75 मामलों की पुष्टि हुई है। इसमें 11 लोग ठीक हो चुके हैं। यूपी में सबसे ज्यादा मामले नोएडा से सामने आए हैं। यहां 31 लोग कोरोना से पीड़ित हैं।

गुजरात में 2 मरीजों को छुट्टी

गुजरात में कोरोना के 58 मामले की पहचान हुई है। इस बीमारी से राज्य में 5 लोगों की मौत हुई है। इस बीच, राज्य से कुछ अच्छी खबर भी है। सूरत और अहमदाबाद की दो महिला मरीज ने इस बीमारी से लड़कर उसे मात भी दी है। रविवार को सूरत की 21 वर्षीय एक लड़की को अस्पताल से छुट्टी दी गई। लड़की की लंदन यात्रा की ट्रैवल हिस्ट्री थी। सूरत के डेप्युटी म्युनिसिपल कमिश्नर (हेल्थ ऐंड हॉस्पिटल) डॉ आशीष नायक ने बताया कि लड़की का तीसरा सैंपल भी निगेटिव आया है। वह 14 दिन में रिकवर हो गई है।

गुजरात की ठीक मरीज बोलीं, डॉक्टर पर भरोसा रखें

अहमदाबाद की ठीक हुई मरीज ने कहा कि शांत रहें, अपने डॉक्टर पर भरोसा करें। मेरे मामले में लक्षण मेरे फिनलैंड से लौटने के 7 दिन बाद शुरू हुआ। मैं अपनी ट्रैवल हिस्ट्री जानती थी और जब मुझे सांस लेने में दिक्कत शुरू हुई तो तुरंत मैंने मेडिकल मदद ली। 34 वर्षीय यह महिला अब कोरोना को मात देकर अस्पताल से छुट्टी पा गई हैं। 10 दिन अस्पताल में रहने के बाद उसके दोनों सैंपल निगेटिव पाए गए थे।