पीएम मोदी के एक झटके से चीन को 6 बिलियन डॉलर का नुकसान

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

भारत ने चीन को वो जोर का झटका धीरे से दिया है कि ड्रैगन अपने घर में फड़फड़ाने में लगा हुआ है। चीन को भारत से टकराना इतना मंहगा पड़ रहा है कि उसने कभी सपने में भी नही सोचा होगा। 59 एप पर सरकार की रोक के बाद चीन को अभी तक 6 बिलियन डॉलर से अधिक का नुकसान होने की आशंका जताई जा रही है और ये अनुमान खुद चीनी दिग्गज कंपनी यूनिकॉर्न बाइटडांस लिमिटेड ने लगाया है जिसका टिकटॉक एप भी है।

 ड्रैगन की आर्थिक स्थिति पर मोदी का वार

कहते हैं कि आज अगर आपको अपने दुश्मन को कमजोर करना है तो उसपर आर्थिक चोट करो ठीक मोदी जी ने यही किया जिसका असर अब चीन में होने भी लगा है। चीन की कंपनियां खुद मान रही है कि भारत से बिजनेस बंद हो जाने के बाद उन्हें काफी बड़ा नुकसान होने वाला है जिसका असर चीन देश पर भी पड़ेगा। टिकटॉक के अलावा भारत सरकार ने 58 अन्य चीनी एप्‍स पर प्रतिबंध लगा दिया, जिसमें लोकप्रिय यूसी ब्राउज़र भी शामिल है। सरकार की तरफ से कहा गया है कि “भारत की संप्रभुता और अखंडता, भारत की रक्षा, राज्य की सुरक्षा और सार्वजनिक व्यवस्था” को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। यह फैसला चीनी सैनिकों के साथ पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा के साथ चल रहे गतिरोध के मद्देनजर आया था। चीन के Caixinglobal.com ने कंपनी के वरिष्ठ प्रबंधन के करीबी सूत्रों के हवाले से बताया कि भारत द्वारा प्रतिबंधित चीनी ऐप से बंद होने के बाद 6 बिलियन डॉलर या उससे अधिक नुकसान होने की संभावना है।

लद्दाख विवाद के बीच सरकार ने लगाई रोक

59 चीनी ऐप के भारत में प्रतिबंध को अभूतपूर्व बताते हुए रिपोर्ट ने कहा कि यह टिकटॉक के वैश्विक विस्तार के लिए एक बहुत बड़ा झटका है, जिसे विदेशों में सबसे लोकप्रिय चीनी ऐप के रूप में जाना जाता है। भारत उपयोगकर्ताओं के मामले में सबसे बड़ा बाजार है। बाइटडांस एप्स पर प्रतिबंध लगाने के कारण इसके छोटे वीडियो प्लेटफॉर्म टिकटॉक, विगो वीडियो और सोशल नेटवर्किंग एप हेलो बंद हो गए हैं। टेनसेंट के मैसेजिंग प्लेटफॉर्म वीचैट और उसके पांच अन्य एप्स पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है। अलीबाबा ग्रुप होल्डिंग लिमिटेड और Baidu इंक सहित अन्य बड़ी टेक चाइना फर्मों ने भी अपने उत्पादों पर प्रतिबंध लगा है।अब सभी 59 ऐप को भारतीय बाजार के लिए Apple Inc और Google LLC के ऐप स्टोर से हटा दिया गया है। इस साल की पहली तिमाही में भारत में TikTok को 611 मिलियन बार डाउनलोड किया गया था। जो इस तिमाही में दुनियाभर में इसके कुल डाउनलोड का 30.3% था और 2019 के भारत की कुल संख्या का लगभग दोगुना। भारत सरकार के इस कदम पर प्रतिक्रिया देते हुए TikTok ने कहा कि वह पूरी तरह से निर्णय का पालन करेगा। बाइटडांस भारत में 2,000 से अधिक पूर्णकालिक स्थानीय कर्मचारियों की नियुक्त कर चुका है।

मतलब साफ है कि चीन की हर चाल को भारत अब अपनी चाल से जवाब दे रहा है और ऐसा करारा जवाब दे रहा है कि चीन की आर्थिक कमर तो टूट रही है साथ ही उसके देश में लोगो के बीच में हलचल भी फैल रही है कि अगर ऐसा ही चला तो चीन की हालत खराब हो जायेगी और वो आर्थिक तौर पर बर्बाद हो जाएगा।


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •